नीतीश-ललन के साथ का नहीं मिला बहुत लाभ ! JDU से दुश्मनी के बाद भी 2020 में अनंत सिंह को मिले थे 78721 वोट, दोस्ती के बाद 2022 में...

नीतीश-ललन के साथ का नहीं मिला बहुत लाभ !  JDU से दुश्मनी के बाद भी 2020 में अनंत सिंह को मिले थे 78721 वोट, दोस्ती के बाद 2022 में...

PATNA:  नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू का साथ मिलने के बाद भी मोकामा के रण में अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी को खास लाभ नहीं हुआ। 2020 के चुनाव से इस बार महज 1 हजार 23 मत अधिक मिले. जबकि भाजपा ने लोजपा के बाहरी सहयोग से 63 हजार से अधिक मत लाये. पिछली दफे बीजेपी-जेडीयू के संयुक्त प्रत्याशी रहे राजीव लोचन को महज 42964 मत मिले थे. इस तरह से मोकामा के रण में लंबे अंतराल के बाद कैंडिडेट दिये बीजेपी को 63003 मत मिले. बीजेपी इस मत से काफी उत्साहित है. भाजपा नेताओं ने साफ कर दिया है कि मोकामा के वोटरों ने मन बना लिया है. 2025 में मोकामा में कमल खिलेगा। 

नीतीश कुमार अब राजद के साथ 

2020 का विधानसभा चुनाव और 2022 के उप चुनाव में काफी अंतर रहा. इस बार नीतीश कुमार ने भाजपा का साथ छोड़ राजद से हाथ मिला लिये. यानि जो नीतीश कुमार 2020 के चुनाव में अनंत सिंह के खिलाफ चुनाव प्रचार किये. इस बार उनकी पार्टी जेडीयू ने अनंत सिंह को जीताने में अपनी ताकत झोंकी. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने भी मोकामा में जनसंपर्क किया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी वीडियो जारी कर राजद प्रत्याशी नीलम देवी को जीताने की अपील की. हालांकि इस अपील का कितना असर हुआ यह तो रिजल्ट देखने से पता चल रहा है। 2020 के चुनाव में अनंत सिंह ने बिना जेडीयू के ही 78721 वोट लाये थे. इस बार जेडीयू के सहयोग से अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी को 79744 मत मिले. अऩंत सिंह को नीतीश कुमार और ललन सिंह का साथ मिलने से कितना फायदा हुआ यह आप खुद समझिए।  

16741 मतों से जीतीं नीलम देवी 

मोकामा सीट से राजद प्रत्याशी नीलम देवी ने बड़ी जीत दर्ज की है। उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी बीजेपी प्रत्याशी सोनम देवी को 16741 मतों से पराजित किया है। इस तरह से अनंत सिंह ने अपने गढ़ मोकामा को बचाए रखने में कामयाब हो गए हैं। राजद प्रत्याशी नीलम देवी को 79744 मत मिले। वहीं बीजेपी कैंडिडेट सोनम देवी को 63003 मत, उपेंद्र साहनी को 1709 मत, धीरज कुमार मालाकार को 529 मत, लालू प्रसाद यादव को 644 मत, सुनील कुमार को 1135 मत और नोटा में कुल 2470 मत गए हैं। 2020 के विधानसभा चुनाव में राजद उम्मीदवार अनंत सिंह ने जदयू के राजीव लोचन नारायण सिंह (42964 वोट) को 35757 मतों से हराया था. इस प्रकार अनंत सिंह पांचवी बार मोकामा विधानसभा क्षेत्र से विधायक बने थे.  

नीतीश कुमार पर हमला 

मोकामा में 63 हजार वोट हासिल होने और जेडीयू का राजद के साथ जाने के बाद भी तेजस्वी यादव को कोई फायदा नहीं मिलने से बिहार बीजेपी ने नीतीश कुमार को घेरा है। नेता प्रतिपक्ष विजय सिन्हा ने कहा कि इस चुनाव में नीतीश सरकार हार गई। जेडीयू का वोट कहीं नहीं दिखा. वहीं प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा की इन दोनों चुनावों ने साफ़ कर दिया है कि अब बिहार की राजनीति भाजपा बनाम राजद हो चुकी है। यानी केंद्र की तरह यहां भी अब राष्ट्रवाद बनाम परिवारवाद आमने-सामने आ चुका है। वहीं अवसरवाद की राजनीति करने वाले जदयू जैसे दल किनारे पर हमेशा की तरह बैसाखी पर लटके हुए हैं।

Find Us on Facebook

Trending News