अनंत सिंह का खास छोटन सिंह की जमानत रद्द कराएगी बाढ़ पुलिस, डबल मर्डर समेत कई कांड़ों में है चार्जशीटेड

अनंत सिंह का खास छोटन सिंह की जमानत रद्द कराएगी बाढ़ पुलिस, डबल मर्डर समेत कई कांड़ों में है चार्जशीटेड

PATNA:  अनंत सिंह के खासम-खास छोटन सिंह की जमानत रद्द कराने के लिए बाढ़ थाना प्रयास करेगी। बाढ़ पुलिस सभी मामलों में जमानत रद्द कराने के लिए कोर्ट में आवेदन देगी। बाढ़ थाना गिरफ्तार छोटन सिंह का आपराधिक इतिहास पता कर रही है।

छोटन सिंह पर  भदौर, बाढ़, खुसरूपुर और बेउर थाने में प्राथमिकी दर्ज होने की जानकारी मिली है। कई बार वह जेल भी जा चुका है। बाढ़ थाना में 2014 मे इसके खिलाफ हत्या की प्राथमिकी दर्ज हुई थी।12 जुलाई 2014 को कांड संख्या 260/14 के तहत हत्या की प्राथमिकी इसके खिलाफदर्ज हुई थी और पुलिस ने इसके खिलाफ चार्जशीट भी दायर किया था।


 भदौर थाना में भी उसके खिलाफ डबल मर्डर की प्राथमिकी दर्ज की गई थी। 2015 विधानसभा चुनाव के अगले दिन ही जवाहर सिंह और प्रेम सिंह उर्फ नागाजी की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी। जवाहर सिंह और प्रेम सिंह उर्फ नागा जी ने अनंत सिंह का चुनाव में खुलकर विरोध किया था। इसी विरोध के कारण दोनों की हत्या कर दी गई थी। अनंत सिंह के अलावा छोटन सिंह भी उस मामले का चार्जशीटेड अभियुक्त है। 

भदौर थाना के अलावा बाढ़ थाना और राजधानी पटना के बेउर थाने में भी हत्या के मामले दर्ज हैं। विवेका पहलवान के समर्थक संजीत पहलवान और अभय सिंह की हत्या में भी इसका नाम आया था। बेउर थाना कांड संख्या 36/13 का यह चार्जशीटेड अभियुक्त है। 19 फरवरी 2013 को हुए हत्या और अपहरण के मामले में भी इसके खिलाफ बेउर थाना ने चार्जशीट कर रखा है। वहीं 2009 में भी इस पर हत्या का मामला दर्ज हुआ था। 2 मार्च 2009 को हुए हत्या के मामले में इसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हुई थी। बेउर थाना में कांड संख्या 55/2009 में इसके खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी।

Find Us on Facebook

Trending News