एक और घोटाला : स्कूल के विकास कार्य के लिए मिली लाखों की राशि हजम कर गए हेडमास्टर, मामला सामने आने के बाद विभाग में मचा हड़कंप

एक और घोटाला : स्कूल के विकास कार्य के लिए मिली लाखों की राशि हजम कर गए हेडमास्टर, मामला सामने आने के बाद विभाग में मचा हड़कंप

MOTIHARI : मोतिहारी जिले का शिक्षा विभाग भ्रष्टाचार का केंद्र बन चुका है। यह बात एक बार फिर साबित हुई है। कभी यहां शिक्षकों की नियुक्ति में फर्जीवाड़े की बात सामने आती है, कभी एमडीएम का राशन गोदाम से गायब हो जाता है। अब यहां स्कूल के विकास के लिए भेजी गई लाखों की राशि को ही गबन कर लिया गया है। मामला मोतिहारी के जवाहर लाल नेहरू उच्च माध्यमिक विद्यालय सिरनि मलाही से जुड़ा है। आरोप है कि स्कूल के प्रभारी एचएम विकास कोष के 5 लाख रुपया गटक गए हैं। प्रकरण सामने आने के बाद डीईओ संजय कुमार ने बड़ी कार्रवाई की है। डीईओ ने प्रभारी एचएम को पद से मुक्त करते हुए दो दिनों में स्कूल के वरीय शिक्षक को प्रभार देने का निर्देश दिया है।

ऐसे हुआ खुलासा

विद्यालय के ही शिक्षक के आवेदन पर डीईओ द्वारा जांच में मामला का खुलासा हुआ है। जांच में स्कूल विकास कोष से प्रभारी एचएम द्वारा 5 लाख 7 हज़ार का निकासी किया गया है। जबकि रोकड़ पंजी में कोई खर्च का ब्यौरा अंकित नही हैं। वहीं डीईओ ने विद्यालय के अन्य मद में भी भारी अनियमितता की संभावना व्यक्त करते हुए जांच कराने की बात कही है। अगर विद्यालय के अन्य मदों की सूक्ष्म तरीके से जांच किया जाय तो भारी गड़बड़ी से इनकार नही जा सकता। 

डीपीओ ने जांच रिपोर्ट में लिखा है कि विद्यालय जांच में एक सप्ताह के अंदर विद्यालय के सभी अभिलेख को मांगा गया था। लेकिन प्रभारी एचएम द्वारा दो माह बाद विद्यालय अभिलेख जांच टीम के समक्ष उपस्थित किया गया, जो भी एक गंभीर मामला है। डीईओ के कार्रवाई से गड़बड़ी करने वाले एचएम में हड़कम्प मचा हुआ है।

डीपीओ ने अपने रिपोर्ट में प्रभारी एचएम को किसी दूसरे विद्यालय में ट्रांसफर करने की मांग करते हुए वितीय अनियमितता मसमले में विभागीय कार्रवाई करने का अनुशंसा की गई है। वहीं परिवादी शिक्षक का भी स्थान्तरित किसी दूसरे विद्यालय में करने की अनुसंशा की गई है।


Find Us on Facebook

Trending News