भारतीय रेल के रवैये से नाराज आंदोलनकारियों की मुहिम तेज, करेंगे आमरण अनशन

भारतीय रेल के रवैये से नाराज आंदोलनकारियों की मुहिम तेज, करेंगे आमरण अनशन

लखीसराय: बड़हिया रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों के ठहराव को लेकर 60 गांव की लगभग चार लाख आबादी के बीच जन जागरण और प्रचार अभियान तेज। 1 जनवरी 2021 को यहां के लोगों द्वारा रेल मंत्री सहित वरीय पदाधिकारी को लिखित सूचना देकर यह बताया गया था कि 16 जनवरी 2021 तक उन सभी ट्रेनों का ठहराव बड़हिया सहित प्रखंड के तमाम हॉल्ट पर दी जाए जो ट्रेने कोरोना काल से पूर्व यहां पर रुक रही थी। यह तमाम आवेदन पत्र 6 जनवरी 2021 तक तमाम अधिकारियों के पास पहुंचने के बाद भी कोई कार्रवाई जनहित में अभी तक नहीं की गई है जिससे निराश होकर आंदोलनकारियों ने पुनः

लिखित आवेदन पत्र देकर स्टेशन प्रबंधक सहित प्रखंड विकास पदाधिकारी बड़हिया ,अंचलाधिकारी बड़हिया ,थानाध्यक्ष बड़हिया, जीआरपी बड़हिया और आरपीएफ बैरक इंचार्ज बड़हिया को सूचित करते हुए लिखित जानकारी दी गई कि आंदोलनकारी 17 जनवरी 2021 को दिन के 9:00 बजे से अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम अनिश्चितकालीन आमरण अनशन रेल परिसर में करने को पूर्णतः तैयार है।

आंदोलनकारी मनोरंजन सिंह, अंजनी सिंह, संजय सिंह, छोटेलाल सिंह ,मदन प्रसाद सिंह ,राकेश कुमार सहित सैकड़ो लोगों ने बताया कि 400000 की आबादी वाला 60 गांँवों के क्षेत्र का लाइफ लाइन ट्रेन ही है। जिसका स्टॉपेज उठाकर यहां के लोगों के साथ रेलवे ने सौतेला व्यवहार किया है इसलिए जब तक पूर्व से चल रही ट्रेनों का ठहराव बड़हिया स्टेशन पर नहीं दिया जाता है तब तक हम लोगो का आमरण अनशन अनवरत जारी रहेगा।

बता दें कि बड़हिया में बायपास की मांग भी लंबे समय से की जा रही है, लेकिन राज्य सरकार द्वारा नए स्वीकृत 120 बायपास में भी बड़हिया को जगह नहीं मिली थी। जिसको लेकर भी यहां के लोगों में नारजगी है

Find Us on Facebook

Trending News