अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को देखने पहुंचे नीतीश, मिलेगा खास तोहफा

अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को देखने पहुंचे नीतीश, मिलेगा खास तोहफा

patna :  बिहार में विधानसभा चुनाव की आहट के बाद से ही सभी राजनीतिक पार्टियां एक्टिव हो गई है. विपक्ष जनता के बीच घूम-घूम कर सरकार की नाकामियों को गिना रहा है तो सरकार लगातार बिहारवासियों को तोहफे दिए जा रही है. सीएम नीतीश कुमार हर रोज कई सारी योजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास कर रहे हैं. यही नहीं हर काम पर नजर भी बनाए हुए हैं. मतलब यह कि सीएम नीतीश खुद से मॉनिटरिंग भी कर रहे हैं.

इसी कड़ी में मुख्यमंत्री ने अपने ड्रीम प्रोजेक्ट बिहटा सरमेरा एस एच 78 एवं पटना -रिंग रोड प्रोजेक्ट का निरीक्षण करने पटना जिले के बिहटा के कन्हौली गॉव पहुँचे. जहां पर उन्होंने ने पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव के साथ बिटेश्वर मेला एवं पटना रिंग रोड प्रोजेक्ट अधिकारियों के साथ निरीक्षण किया, साथ ही साथ चल रहे निर्माण कार्य का भी जायजा लिया. जानकारी के मुताबिक  बिहटा- सरमेरा SH 78 पथ जो बिहटा के कन्हौली से सीधे नालन्दा पहुँचेगी ,जिससे आरा बक्सर की ओर से आने जाने वाले लोगों को पटना नहीं आना पड़ेगा और  दक्षिण बिहार जाने का यह सुगम एवं आसान रास्ता बन जायेगा.


वही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को एनएचएआई(NHAI) के अधिकारियों ने उन्हें रुट मैप दिखाया ,बिहटा से सरमेरा रोड का काम लगभग पूरा हो चुका है जिसका विधिवत उद्घाटन सीएम ने पिछले हफ्ते वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से की थी. लेकिन नौबतपुर और बिहटा के बीच मे अभी भी लगभग 14 किलोमीटर तक के सड़क अभी बन नहीं पाया है, बनने में हो रही परेशानी को जानने के लिए मुख्यमंत्री ने आज बिहटा से नौबतपुर और उसके आगे तक का निरीक्षण किया उनके साथ पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव भी मौजूद थे.

पटना रिंग रोड के एक फेज के टेंडर प्रक्रिया पूरी होने के बाद निर्माण कार्य जुलाई में शुरू हुआ है. पटना रिंग रोड में कन्हौली से रामनगर तक 39 किलोमीटर छह लेन का सड़क का निर्माण होगा और इस पर 823 करोड की लागत आएगी. 24 महीने में इसका निर्माण कर देना है. पटना रिंग रोड बिहटा के पास कन्हौली से शुरू होकर सदीसोपुर, नौबतपुर, डुमरी होते हुए पटना मसौढ़ी पथ पर लखना के निकट पारकर SH-78 के राम नगरी तक जाएगी. वही इस मौके पर पथ निर्माण विभाग के मंत्री नंदकिशोर यादव, पटना जिलाधिकारी कुमार रवि, पटना प्रमंडलीय आयुक्त संजय अग्रवाल एवं पथ निर्माण विभाग के तमाम अधिकारी एवं स्थानीय पदाधिकारी भी मौजूद थे.



Find Us on Facebook

Trending News