बिहार BJP की अधिकारियों से अपील, कहा- बाबूगिरी की साइकोलॉजी से बहार निकलकर घटनाओं को गंभीरता से लें

बिहार BJP की अधिकारियों से अपील, कहा- बाबूगिरी की साइकोलॉजी से बहार निकलकर घटनाओं को गंभीरता से लें

डेस्क... बिहार की इसी NDA सरकार ने 2005 से 2015 तक सुशासन का मॉडल दिया था। लेकिन यह बात भी सत्य है कि 2015 में RJD के सरकार में आने के बाद गवर्नेंस का कोहेरेंस गड़बड़ाया। बिहार की NDA सरकार आज की तारीख में भी उतनी ही तत्पर है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी उसी कदर स्वयं हर घटना का गंभीरता से संज्ञान लेते हैं। विपक्ष सवाल उठाए, लेकिन लाशों पर राजनीति न करे। कोई भी आपराधिक घटना पुलिस- प्रशासन के लिए चुनौती है। यह बात बीजेपी के प्रवक्ता निखिल आनंद ने कही। 

उन्होंने बिहार के सभी अफसरों से अपील है कि बाबूगिरी की साइकोलॉजी से बाहर निकलें। हर घटना का गंभीरता से संज्ञान लेकर अनुसंधान करें और अपराधियों के खिलाफ पूरी सख्ती से कार्रवाई करें। सभी अधिकारी बाबूडम की साइकोलॉजी से बाहर निकलकर गंभीरता से बिहार के प्रति अपनी नैतिक जिम्मेदारी को समझे। 

बिहार की NDA सरकार प्रदेश को विकास के मार्ग पर आगे ले जाने के लिए संकल्पित है। बिहार को बेहतर बिहार बनाने के लिए भ्रष्टाचार, अपराध और कानून- व्यवस्था के स्तर पर किसी भी तरह की  कोताही NDA सरकार बर्दाश्त नहीं करेगी।

Find Us on Facebook

Trending News