नवादा में लॉकडाउन के दौरान लूट-छिनतई की घटनाओं में इजाफा, हलकान रही पुलिस

नवादा में लॉकडाउन के दौरान लूट-छिनतई की घटनाओं में इजाफा, हलकान रही पुलिस

NAWADA : कोरोना महामारी की मार झेल रहे आम लोग लॉकडाउन की अवधि में अपराधियों के निशाने पर रहे. जिले में लूट की तीन बड़ी वारदात के साथ ही छिनतई, डकैती, चोरी की भी घटनाओं में भी इजाफा हुआ है. अकेले जून महीने में लूट की दो घटनाएं हुईं. ग्राहक सेवा केंद्र के दो संचालकों को लूटा गया. 

पहली घटना कौआकोल थाना क्षेत्र में दो जून को हुई थी. बाइक सवार तीन हथियारबंद बदमाशों ने छबैल-महापुर पथ पर कौआकोल के सीएसपी संचालक नवीन कुमार से 2.30 लाख रुपये लूट लिए थे. वह बाइक से अपने एक साथी के साथ अलीगंज के लिक्ड एसबीआइ ब्रांच से 2.30 लाख रुपये लेकर कौआकोल के सेखोदेवरा स्थित अपने घर लौट रहे थे. 

दूसरी घटना 25 जून को हुई. जिसमें बाइक सवार तीन हथियारबंद बदमाशों ने पकरीबरावां- कौआकोल पथ पर रामपुर गांव के पास एसबीआई ग्राहक सेवा केंद्र के संचालक राजीव कुमार से दो लाख रुपए लूट लिए. राजीव पकरीबरावां एसबीआइ से दो लाख रुपए लेकर अपने एक साथी के साथ बाइक से अपने घर कौआकोल के भलुआही लौट रहे थे. हालांकि इन दोनों मामलों में पुलिस को कामयाबी मिली है और घटना में अपराधियों को हथियार व कारतूस के साथ दबोच लिया गया. वहीं अभी एक दिन पहले रजौली थाना क्षेत्र के करमा गांव के समीप कुरियर कर्मी सन्नी कुमार निराला से 6 लाख 68 हजार रुपये लूट लिए गए. फिलहाल इस मामले में पुलिस को कोई सुराग नहीं मिल सका है. इसके पहले 20 मई को हिसुआ थाना क्षेत्र में चीनी लदे ट्रक को अपराधियों ने लूट लिया था. हालांकि ट्रक को चंद घंटों के बाद बजरा मोड़ से बरामद कर लिया गया था.

नवादा नगर थाना क्षेत्र में भी अपराधी काफी सक्रिय रहे. चोरी की कई घटनाओं के बीच 18 अगस्त को पार नवादा डोभरा मोहल्ला में डकैती के दौरान एक युवक की हत्या कर दी गई. हालांकि एक-दो दिनों के भीतर पुलिस ने सभी आरोपितों को गिरफ्तार करते हुए मामले का पर्दाफाश कर दिया. बड़ी घटनाओं की गुत्थी सुलझाने में पुलिस पूरी तरह हरकत में रही. लेकिन चोरी की किसी भी घटना का राजफाश नहीं हो सका.

नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News