भाजपा विधायक ने ही सुशासन की खोल दी पाेल, अपराधियों में पुलिस का भय हो चुका है खत्म, ये घटना खुली चुनौती

भाजपा विधायक ने ही सुशासन की खोल दी पाेल, अपराधियों में पुलिस का भय हो चुका है खत्म, ये घटना खुली चुनौती

DARBHANGA... दरभंगा में बुधवार को सुबह सवा 10 बजे के आसपास दिन दहाड़े लूट की घटना को अंजाम दिया गया है। स्वर्ण व्यवसायी के यहां से लगभग 5 करोड़ की घटना के बाद अपराधियों ने पुलिस को खुली चुनौती दी है। इस घटना के बाद व्यापारियों में पुलिस के प्रति काफी आक्रोश पनप रहा है। वहीं जिले के एसपी बाबू राम ने कहा कि ये प्लानिंग के तहत घटना को अंजाम दिया गया है। सभी अपराधियों को जल्द से जल्द पकड़ लिया जाएगा। इस बीच दरभंगा के भाजपा विधायक संजय सरावगी ने ही प्रशासन की कार्यप्रणाली पर सवाल उठा दिया है। 

विधायक संजय सरवागी ने कहा कि दरभंगा शहर के बड़ा बाजार में एक बहुत बड़े स्वर्ण व्यवसायी के यहां अपराधियों ने करोड़ों की लूट की घटना को अंजाम दिया है। विधायक ने कहा कि दरभंगा में स्वर्ण व्यवसायी के यहां हुई लूट के बाद प्रशासन को अपराधियों ने खुली चुनौती दी है। विधायक ने कहा कि जिस जगह लूट हुई है वहां से पास में ही थाना और चौकी है और घटना के तकरीबन 25 मिनट बाद मौके पर पुलिस पहुंची है। 

विधायक ने कहा अपने प्रशासन के ऊपर सवालिया निशान लगाया है। उन्होंने कहा कि तकरीबन 30 राउंड फायरिंग हुई है और ये साफ तौर पर प्रशासन को खुली चुनाैती है। अपराधियों में प्रशासन का भय कम होता जा रहा है। अपराधियों में प्रशासन का भय होना चाहिए और इतनी बड़ी घटना दिन दहाड़ं घटी है। 10:15 बजे की घटना के बाद यह सोचने का विषय है। यह प्रशासन को सोचना चाहिए। इस पर तुरंत प्रशासन को कार्रवाई करनी चाहिए। जितना सोना लूटा गया है उनकी रिकवरी होनी चाहिए। अपराधियों को पकड़ना चाहिए। 

विधायक नेकहा कि इस घटना को चुनौती के रूप में लेना चाहिए, क्योंकि अपराधियों ने चुनौती दी है प्रशासन को, क्योंकि दिनदहाड़े बड़ी बाजार में लूट की घटना को अंजाम देना। हालांकि बगल में थाना है पुलिस चौकी थाना है। धीरे-धीरे अपराधियों में प्रशासन का खौफ कम होता जा रहा है। 

गौरतलब है कि जिस वक्त ये घटना घटी उस समय राजधानी में अपराध को लेकर सीएम नीतीश कुमार अधिकारियों के साथ हाईलेवल मीटिंग कर रहे थे। बता दें कि कुछ दिन पहले भी अपराधा पर अंकुश लगाने के लिए सीएम नीतीश कुमार ने अपराधियों के साथ मीटिंग की थी, लेकिन इस मीटिंग का न तो उन अधिकारियों पर कोई असर पड़ा है और न ही अपराधियों पर। 


Find Us on Facebook

Trending News