उपचुनाव में बिहार कांग्रेस प्रभारी की जमीर जगी, यह कब तक रहेगी? : अरविन्द सिंह

उपचुनाव में बिहार कांग्रेस प्रभारी की जमीर जगी, यह कब तक रहेगी? : अरविन्द सिंह

पटना. भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अरविन्द कुमार सिंह ने बिहार कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास पर हमला बोला है. उन्होंन कहा कि महाठगबंधन यानी महागठबंधन में रहते रहते भक्त चरण दास की मरी हुई जमीर फिर जग गई है और कब तक जमीर जगी रहेगी, यह बिहार की जनता देखेगी क्योंकि महागठबंधन में जितने भी लोगों का गठबंधन था सब सियासी कलाकारों का गठबंधन है.

उन्होंने कहा कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद सारे शहर के भिखारीयों को केस कटवाकर और स्नान कराकर और उनको सपने दिखा कर और गरीब-किसानों का चारा घोटाला कर गए. उसी तरह से उनके सुपुत्र नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव जी डेढ़ लाख का जूता पहन करके और बंसी बंसी खेल कर मछली पकड़ना और मछुआरों के भावना से खेल कर दिवास्वप्न दिखा करके उनके वोटों के लिए ठगने का काम करेंगे, कोई एक नए मॉल का मालिक बन जाएंगे, जो यह महागठबंधन था वह पूरा ठग बंधन था.

अरविन्द सिंह ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी महागठबंधन में राजद के सामने कटोरा लेकर गिड़गिड़ा रहा था कि एक सीट दे दीजिए, लेकिन उस सीट को भी कांग्रेस पार्टी हासिल नहीं कर सकी और उसके बाद भी अगर उसकी जमीर नहीं जगती है, तो उसी कटोरे में पानी भरकर नाक डूबा लेना चाहिए.

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव अपने एरोगेसी में कांग्रेस को दोयम दर्जे की पार्टी बना करके बिहार में छोड़ दिया है. इतने वर्षों के बाद कोई कांग्रेस का प्रभारी आया, जिसकी थोड़ी सी जमीर बची हुई थी या बिहार की जनता ने जगा दी है. देखना है इसकी जमीर कब तक जगी रहती है. या वोट कटवा की भूमिका में कांग्रेस रहती है. उपचुनाव के बाद फिर महागठबंधन वही सियासी महाठगबंधन नजर आएगा.

बिहार की जनता को डर है कि कांग्रेस वोट कटवा पार्टी बनकर नहीं रह जाए और फिर वह महागठबंधन में चला जाए. राजद और कांग्रेस दोनों सराफत का माला पहनकर बगुला भगत बने हैं. जनता को झूठ बोल कर वोट लेने के लिए सियासी नाटक खेल रहे हैं. क्योंकि अब कांग्रेस की आशा कन्हैया, हार्दिक, और जिगनेश पर है. और साथ मे पप्पु यादव है, जिनका इतिहास कोसी के आतंक के रूप में हुआ करता था.

Find Us on Facebook

Trending News