पुलिस पर हमला: कानून का पालन कराना पड़ा महंगा, शराब कारोबारियों ने गांव के चौकीदार को बेरहमी से पीटा, मामला दर्ज

पुलिस पर हमला: कानून का पालन कराना पड़ा महंगा, शराब कारोबारियों ने गांव के चौकीदार को बेरहमी से पीटा, मामला दर्ज

SHEIKHPURA: बीते दिनों सुप्रीम कोर्ट ने बिहार पुलिस पर विशेष टिप्पणी कर कहा था कि ‘बिहार में कानून का राज हो या ना हो, पुलिस का राज जरूर है।’ हालांकि इस मामले में यह कथन उल्टा पड़ता दिखा। एक तरफ जहां शराब कारोबारी और पुलिस की सांठ-गांठ की किस्से सरेआम हो रहे हैं, वहीं कानून का पालन कराना गांव के चौकीदार को काफी महंगा पड़ा। गांव के ही शराब कारोबारियों ने चौकीदार को लाठी-डंडे से बेरहमी से पीटा। 

शेखपुरा जिला के बरबीघा प्रखंड के सर्वा पंचायत अंतर्गत जमालपुर गांव में मंगलवार की देर संध्या शराब कारोबारियों ने गांव के चौकीदार पर हमला कर उसे गंभीर रूप से जख्मी कर दिया। इस घटना में चौकीदार मोहन कुमार की दाहिने हाथ की एक उंगली भी टूट गई। बीच-बचाव करने गए चौकीदार के एक परिजन भी इस मारपीट में घायल हो गए। घटना को लेकर आधा दर्जन से अधिक लोगों को नामजद अभियुक्त बनाते हुए बरबीघा थाने में एक प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। इस संबंध में चौकीदार मोहन कुमार ने बताया कि वह मंगलवार को गांव में शराब बेचने जा रहे शिवकुमार मांझी को शराब बेचने से मना किया था। इसी बात से नाराज होकर उसने अपने परिजन शामिल मांझी, रोहित मांझी, अनुपी मांझी, प्रेमन मांझी, फूलचंद मांझी तथा आलम मांझी के साथ मिलकर चौकीदार पर लाठी डंडे से हमला कर दिया। इस घटना में चौकीदार मोहन कुमार के सर पर भी गंभीर चोटें लगी है।

ग्रामीणों के बीच बचाव के बाद चौकीदार को किसी तरह बचाया गया। घायल अवस्था में उसे इलाज के लिए रेफरल अस्पताल बरबीघा में भर्ती कराया गया। जहां से उसे बेहतर इलाज के लिए शेखपुरा सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया है। मामले को लेकर थाना अध्यक्ष जयशंकर मिश्र ने बताया कि घटना की जांच पड़ताल कर दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।


Find Us on Facebook

Trending News