भागलपुर में सुबह सुबह बदमाशों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, जांच में जुटी पुलिस

भागलपुर में सुबह सुबह बदमाशों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, जांच में जुटी पुलिस

BHAGALPUR : मधुसूदनपुर थाना क्षेत्र में इन दिनों अपराधी बेलगाम हो गए है. पुलिस ऐसे अपराधियों पर शिकंजा कसने में असफल है. एक तरफ जहां शुक्रवार की रात जदयू नेता के घर के बाहर बमबाजी व छह राउंड फायरिंग हुई. वहीं दूसरी तरफ रविवार सुबह इसी भीमकित्ता में बदमाशों ने दस राउंड ताबड़तोड़ फायरिंग कर पूरे गांव में दहशत फैला दिया. घटना के संबंध में पूर्व में हुए बमबाजी कांड में आरोपित रहे रामपुर खुर्द पंचायत के उपसरपंच पति कुंदन चौधरी ने बताया कि दो दिन पूर्व हुए गोलीबारी व बमबाजी कांड में कुणाल यादव (जदयू नेता) ने उसपर व गांव के सहिंद्र यादव पर बम पटकने व गोली चलाने का आरोप लगाते हुए थाने में एफआईआर दर्ज कराया था. इस घटना से उनका कोई सरोकार नही है. 

कुणाल यादव पर आरोप 


उन्होंने कहा की रविवार सुबह खुद कुणाल यादव व उसका बड़ा भाई छोटू यादव पिता विमल यादव के साथ उनके घर आ धमके व पत्नी से उनके बारे में पूछने लगे. जब पत्नी ने बताया कि पति बाहर खेत गए हुए है तो कुणाल व उसके भाई ने तीन राउंड गोली घर के पास व सात राउंड गोली घर के फोड़कर उसे जान से मार देने की धमकी दी. जब ग्रामीण जुटे तो सभी भाग गए. फायरिंग की सूचना पर मधुसूदनपुर पुलिस पहुंची व मौके से सात खोखा बरामद किया. वहीं खोखा बरामद कर जब पुलिस आरोपित जदयू नेता कुणाल यादव के घर पहुंची तो कुणाल से घटना के बाबत पूछताछ किया. कुणाल ने बताया कि रविवार सुबह साढ़े सात बजे के करीब कुंदन चौधरी दो लोगो के साथ उनके घर पर आए थे और बड़े भाई छोटू यादव से उठाने के लिए बोले. जब भाई ने उन्हें फोन किया तो उसने बाद में मिलने की बात की और फिर सो गए. इसके बाद कुंदन चला गया और अपने घर के पास जाकर ताबड़तोड़ गोलियां चलाने लगा. फायरिंग होने की सूचना उन्होंने फौरन थानाध्यक्ष को दिया. गोलीबारी की घटना से उनका कोई लेना देना नही है. बता दे की मधुसूदनपुर थाना क्षेत्र में इन दिनों छोटी छोटी बात पर गोली व बमबाजी जैसी घटना हो रही है. ऐसी लगातार हो रही घटना ने पुलिस गश्ती पर सवाल खड़ा किया जा रहा है. जदयू नेता कुणाल ने उपसरपंच पति का मधुसूदनपुर पुलिस के साथ सांठ-गाँठ रहने का भी आरोप लगाया है. घटना के बाबत मधुसूदनपुर थानाध्यक्ष मिथलेश कुमार ने बताया कि भीमकित्ता गांव में उपसरपंच के घर के बाहर फायरिंग की घटना हुई है. सात खोखा बरामद किया गया है. घटना के सत्यता की जांच की जा रही है. दोषी रहे बदमाशों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा. 

उपसरपंच महिला ने दुर्व्यवहार का लगाया आरोप 

घटना के बाद पूरे भीमकित्ता गांव में वर्चस्व को लेकर तनावपूर्ण माहौल है. ग्रामीणों की माने तो इन दोनो की लड़ाई ने पूरे गांव को परेशान कर दिया है. कब गोली, बम चलेगी. इसका कोई ठिकाना नही है. दबे जुबान पर पुलिस की कार्यशैली पर ग्रामीणों ने भी सवाल खड़े किये. वहीं घटना की प्रत्यक्षदर्शी रही रामपुर खुर्द पंचायत की उपसरपंच गुंजन कुमारी ने बताया कि कोई घटना होता है तो उनके पति का नाम केस में ये लोग दे देते है और फंसाने का कोशिश करते है. रविवार सुबह विमल यादव, कुन्नी यादव और छोटू यादव सीधे उनके घर पर हथियार से लैस होकर आए और पति कुंदन चौधरी को ढूंढने लगे. जब उन्होंने कहा पति घर पर नही है तो सभी ने मिलकर उनके साथ दुर्व्यवहार किया और ताबड़तोड़ फायरिंग करने लगा. उनके पति निर्दोष है. न्याय के लिए जहां जाना पड़ेगा वहां जाएंगे. यदि पति बमबाजी या गोलीबारी करते तो क्या घर पर रहते. जब कभी पुलिस बुलाएगी हम जाने को तैयार है. 

भागलपुर से अंजनी कुमार कश्यप की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News