जमुई में बहकावे में आकर लड़की को पिता ने बताया नाबालिग, मामला प्रेम प्रसंग का निकला, पढ़िए पूरी खबर

जमुई में बहकावे में आकर लड़की को पिता ने बताया नाबालिग, मामला प्रेम प्रसंग का निकला, पढ़िए पूरी खबर

JAMUI : जमुई जिला के चंद्रदीप थाना क्षेत्र के दीननगर गांव के लव-जेहाद मामले को लेकर न केवल जमुई बल्कि पूरे बिहार में जिस तरह हाय-तौबा मचा था. उस कहानी ने एक नया मोड़ ले लिया है. इस मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है. जिस लड़की को उसके पिता द्वारा नाबालिग बताया जा रहा था वो बालिग निकली. मामले को तूल पकड़ता देख लड़की की उम्र की जांच के लिए एक मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया. जिसमें ये रिपोर्ट आया कि लड़की नाबालिग नहीं बल्कि बालिग है. अब तलवार लड़की के पिता पर लटकने लगी है कि उन्होंने झूठी रिपोर्ट दर्ज क्यों करायी और लड़की जब नाबालिग थी तो उसकी शादी क्यों की. 

आज इस बात का खुलासा हुआ कि जिस लड़की को उसके पिता द्वारा नाबालिग बताया जा रहा था वो बालिग है। ये खुलासा कोई और नहीं बल्कि जमुई के पुलिस कप्तान प्रमोद कुमार मंडल ने किया। एसपी ने कहा कि प्रारंभ में जब ये मामला दर्ज किया गया तो पुलिस एक्शन में आयी और पुलिस को लगा कि हो सकता है ये लव-जेहाद का मामला हो। लेकिन मामले की जांचोपरांत तुरंत पता चल गया कि ये प्रेम-प्रसंग का मामला है। उन्होंने कहा कि चूंकि मामला दर्ज हो चुका था तो सबसे पहले पुलिस ने लड़की को बरामद किया। फिर उस लड़के पप्पू खान को गिरफ्तार किया। जिस पर लड़को जबरन भगाने का आरोप लगा था।

एसपी ने कहा कि लड़की बयान का पुलिस ने न सिर्फ खुद बल्कि कोर्ट में भी 164 के तहत दर्ज कराया। जिसमें उसने प्रेम प्रसंग को लेकर पप्पू खान के साथ शादी करनी की बात कही। उन्होंने कहा कि पुलिस ने उसके बाद उसके उम्र को लेकर तफ्तीश करना प्रारंभ की। कारण कि आधार कार्ड में उसकी उम्र को कम दिखाया गया था। इसके बाद मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया। जिसमें ये बात सामने आयी कि लड़की की उम्र 21-22 वर्ष है और वो बालिग है। उन्होंने कहा कि उसकी शादी नाबलिग में करा दी गई थी और वो उस लड़के साथ रहना नहीं चाहती है। फिलहाल वो अपनी बहन के साथ रह रही है और पप्पू खान के रिहा होने के  बाद वो उसके साथ चाहे तो रह सकती है। जमुई के पुलिस कप्तान ने कहा कि लड़की के पिता ने जमुई व्यवहार न्यायालय के एक वकील के कहने पर झूठी रिपोर्ट दर्ज करायी थी और उकी मंशा थी कि समाज में विद्वेश फैले। उन्होंने कहा कि पुलिस अब इस दिशा में काम कर रही है कि नाबालिग लड़की की शादी उसके पिता ने क्यों की और उन्होंने बहकाबे में आकर क्यों मामला क्यों दर्ज कराया। उन्होंने कहा कि इस मामले में दूध का दूध और पानी का पानी कुछ दिनों में हो जाएगा।  

विदित हो कि दो जून को चंद्रदीप थाना में एक लड़की को अगवा कर मस्जिद में धर्मांतरण कराने को लेकर मामला दर्ज किया गया था। लड़की के पिता रामबालक रविदास ने अपने आवेदन में लिखा था कि उनकी  15  वर्षीय पुत्री का अपहरण कर गांव के ही पप्पू खान लव जेहाद कर धर्मान्तर कर गांव के ही मस्जिद में गांव के इमाम के सामने धर्मांतरण करवा लिया। 

जमुई से राकेश कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News