बहन निकली मासूम भाई-बहन की कातिल, कारण जानकर उड़ जायेंगे आपके होश

बहन निकली मासूम भाई-बहन की कातिल, कारण जानकर उड़ जायेंगे आपके होश

Desk : मन में सीरियल किलर बनने के ख्याल आते थे। इस वजह से युवती ने खून के रिश्ते को तार-तार कर मासूम भाई-बहन को ही मौत के घाट उतार दिया। घटना यूपी के रायबरेली जिले की है। 

रायबरेली के लालगंज कोतवाली क्षेत्र में चचेरे भाई-बहन की हत्या की दिल दहलाने वाली घटना का पुलिस ने शनिवार को खुलासा कर दिया। मासूम भाई-बहन की हत्या उनके अपनी ही चचेरी बहन ने की थी। पुलिस की मानें तो डबल मर्डर के मामले में पकड़ी गई आरोपी चचेरी बहन मनोरोगी है। पुलिस ने हत्या आरोपी युवती को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

एसपी स्वप्निल ममगाई ने बताया कि लालगंज क्षेत्र के कुंडवल गांव की रहने वाली रूबी (8) और दीपक (11) की हत्या करके दोनों के शव झाड़ियों में फेंक दिए गए थे। रूबी बीते 19 अगस्त को, जबकि उसका चचेरा भाई दीपक एक सितंबर को गायब हुआ था।


एसओजी प्रभारी अमरेश कुमार त्रिपाठी, लालगंज कोतवाल राकेश सिंह, सदर कोतवाल अतुल सिंह और महिला थानेदार संतोष कुमारी ने पड़ताल के दौरान घटना में शामिल मृत भाई-बहन की चचेरी बहन श्यामकली पुत्री बाबूलाल निवासी कुंडवल को गिरफ्तार किया।

एसपी ने बताया कि पकड़ी गई श्यामकली मनोरोगी है। उसके मन में सीरियल किलर बनने के ख्याल आते थे। श्यामकली ने पूछताछ में बताया कि वह पहले ननकू की बेटी रूबी को बहलाकर कोइया जंगल ले गई थी। वहां गला दबाकर रूबी को मारकर शव झाड़ियों में छिपा दिया था। घटना के करीब 15 दिन बाद उसने अपने चचेरे भाई दीपक को अन्य लड़कों के साथ खेत में देख।


श्यामकली ने घास की गठरी उठाने के बहाने उससे जंगल में चलने के लिए कहा। दीपक ने मना कर दिया तो वह उसे जबर्दस्ती पकड़कर ले गई। जंगल में श्यामकली ने गला दबाकर दीपक को मारने का प्रयास किया। गला नहीं दबा पाने पर हंसिये से उसके सिर पर कई वार किए, जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद श्यामकली ने उसके शव को भी झाड़ियों में छिपा दिया। एसपी ने बताया कि घटना में प्रयुक्त हंसिया बरामद कर लिया गया है।

Find Us on Facebook

Trending News