बेउर जेल में बाहुबली विधायक की "कमर टूटी", जानिए पुलिस ने ऐसा क्या कर दिया

बेउर जेल में बाहुबली विधायक की "कमर टूटी", जानिए पुलिस ने ऐसा क्या कर दिया

PATNA : पटना के आदर्श बेउर कारा में बंद राजद के बाहुबली विधायक की पुलिस ने "कमर" तोड़ दी है। इससे पहले कि कुछ गलत अर्थ निकालें, हम बता दें यह हमला शारीरिक नहीं, बल्कि दिमागी है। दरअसल, पटना सेंट्रल जेल बेऊर कारा के दो दर्जन विचाराधीन 23 बंदियों को रविवार को भागलपुर विशेष कारा स्थानांतरित कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि स्थानांतरित किए गए कई बंदियों में विधायक अनंत सिंह के करीबी भी बताए जा रहे हैं। बेवर कारा में बंद यह सभी बंदी जेल के अंदर गुपचुप रूप से राजनीति करने का प्रयास कर रहे थे।

इन बंदियों को किया गया शिफ्ट

जेल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बेउर जेल के विचाराधीन बंदी विजय कुमार सिंह ,अजय चौधरी, विजय कुमार ,सुरेश सिंह, सुरेश महतो, साकेत कुमार उर्फ पिंटू, कनक राय, मोनू शर्मा ,राहुल कुमार ,अशोक यादव ,बिरजू ठाकुर, गौरव कुमार ,विपिन कुमार, अनिल कुमार उर्फ मोहन, श्रवण कुमार, सनोज कुमार, राजेश चौधरी ,राजनंदन यादव ,अखिलेश राय ,मोनू कुमार ,राहुल कुमार एवं समीर कुमार शामिल हैं। जेल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार स्थानांतरित किए गए विचाराधीन बंदियों में से कई बंदी दबंग विधायक अनंत सिंह के काफी करीबी बताए जा रहे हैं।

इसके अलावा बेऊर से भागलपुर जेल भेजे गए अपराधियों में सुबोध राय भी शामिल हैं। वह लोजपा नेता बृजनाथी सिंह हत्याकांड का आरोपित है। वृजनाथी सिंह पर एके-47 से हमला किया गया था।  

बच गए अनंत सिंह

इससे पहले एक माह पहले इस बात की चर्चा थी कि मोकामा विधायक को ही पटना से भागलपुर जेल भेजने की तैयारी है। उस समय कोर्ट से इस संबंध में मांग की गयी थी। लेकिन, जेल प्रशासन ने पूरी योजना में ही बदलाव कर दिया। अब मोकामा विधायक की जगह उनके साथ खड़े लोगों को ही यहां से दूसरी जगह भेज दिया गया। माना जा रहा है कि जेल प्रशासन की इस कार्रवाई से अनंत सिंह अब काफी अकेले पड़ गए हैं।

जेल प्रशासन ने दिया यह तर्क

इस मामले को लेकर बेउर जेल के कारा सुपरिटेंडेंट जितेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि जेल के प्रशासनिक को चुस्त-दुरुस्त करने के लिए बंदियों का स्थानांतरण भागलपुर विशेष कार्य किया जा रहा है। जेल सूत्र का यह भी मानना है कि बेउर जेल के अंदर क्षमता से अधिक बंदियों के रहने से कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। इस को ध्यान में रखते हुए जेल प्रशासन ने अधिकारियों के निर्देश के बाद लगभग दो दर्जन बंदियों को रविवार को भागलपुर विशेष करा भेज दिया है। उन्होंने बताया कि जेल में शांति, सुरक्षा एवं विधि व्यवस्था के मद्देनजर यह कदम उठाया गया है।


Find Us on Facebook

Trending News