बाल श्रम सभ्य समाज के माथे पर लगा एक बदनुमा दाग है : विजय कुमार सिन्हा

बाल श्रम सभ्य समाज के माथे पर लगा एक बदनुमा दाग है : विजय कुमार सिन्हा

PATNA : बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि बचपन अनमोल है और बच्चे हमारा भविष्य हैं । वही समाज आगे बढ़ता है जो बच्चों को खुशहाल जिन्दगी जीने का मौका देता है और बचपन को संरक्षित करता है। बच्चों का बचपन बचाना राष्ट्र के भविष्य को मजबूत करना है । गरीबी का अभिशाप बचपन को कुंठित कर देता है। ऐसे में बाल श्रमिक का जन्म होता है। बाल श्रम सभ्य समाज के माथे पर लगा एक बदनुमा दाग है, जिसके रहते समाज की तरक्की अधूरी है। उन्होंने बाल श्रम को गंभीर सामाजिक समस्या बताया ।

सिन्हा ने विश्व बाल श्रम उन्मूलन दिवस पर ये बातें कही। सिन्हा ने कहा कि बाल श्रम उन्मूलन के लिए कई अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय सामाजिक संस्थायें भी कार्य कर रही हैं, जिस पर काफी राशि भी खर्च हो रही है। फिर भी इस दिशा में अपेक्षित सफलता नहीं मिल रही है। इसके कारणों पर हमें विचार करना होगा। कहा कि बाल श्रम उन्मूलन, विमुक्ति और पुनर्वास के लिए राज्य सरकार भी कृत संकल्पित है। 

उन्होंने कहा की जिस तरह से सरकार किसी महामारी,आपदा और बीमारी के उन्मूलन के लिए सजगता से अभियान चला कर इस पर सफलता प्राप्त  करती है, उसी प्रकार हमें बाल श्रम उन्मूलन हेतु सजग और ईमानदार प्रयास करना होगा, तभी हमें पूरी सफलता मिलेगी। इसमें हम जनप्रतिनिधियों की भूमिका भी कम महत्वपूर्ण नहीं है। उन्होंने बाल श्रम उन्मूलन के लिए जनप्रतिनिधियों को आगे आने की अपील की। कहा, बाल श्रम उन्मूलन के लिए जागरूकता फैला कर सभी जनप्रतिनिधि, बुद्धिजीवी अपने सामाजिक दायित्व का निर्वहन करें और बाल श्रम निषेध कार्यक्रमों की सफलता के लिए इसमें अपनी भागीदारी भी सुनिश्चित करें।


Find Us on Facebook

Trending News