इस तिथि को बंद हो जायेंगे केदारनाथ और बद्रीनाथ के कपाट, पढ़िए पूरी खबर

इस तिथि को बंद हो जायेंगे केदारनाथ और बद्रीनाथ के कपाट, पढ़िए पूरी खबर

DESK : केदारनाथ-बदरीनाथ के कपाट बंद होने की तारीख एक बार फिर तय हो गए हैं. 16 नवंबर को सुबह 8.30 बजे केदारनाथ धाम के कपाट बंद होंगे. वहीं 19 नवंबर को दोपहर 3.35 बजे भगवान बदरीनाथ के कपाट भी बंद कर दिए जायेंगे. 

बताते चलें की केदारनाथ उत्तराखंड के 4 धामों में तीसरा धाम है. इसके अलावा ये 12 ज्योतिर्लिंगों में सबसे उंची जगह बना ग्यारहवां शिवलिंग है. महाभारत के अनुसार यहां शिवजी ने पांडवों को बैल के रूप में दर्शन दिए थे.  ये मंदिर करीब 1 हजार साल पहले आदि शंकराचार्य ने बनवाया था. माना जाता है कि 8वीं-9वीं सदी में आदिशंकराचार्य द्वारा मौजूदा मंदिर बनवाया गया था. 

बद्रीनाथ मंदिर के बारे में भी स्कंद पुराण और विष्णु पुराण में वर्णन मिलता है. बद्रीनाथ मंदिर के वैदिक काल (1750-500 ईसा पूर्व) भी मौजूद होने के बारे में पुराणों में वर्णन है. कुछ मान्यताओं के अनुसार, यहां भी 8वीं सदी के बाद आदिशंकराचार्य ने मंदिर बनवाया. ये तीर्थ 3,581 वर्ग मीटर की ऊंचाई पर और गौरीकुंड से करीब 16 किमी दूरी पर है. 

कैलेंडर के अनुसार इस मंदिर के पटहर साल वैशाख महीने यानी मार्च-अप्रैल मेंखोले जाते हैं. करीब 6 महीने तक यहां दर्शन और यात्रा चलती है. इसके बाद कार्तिक माह यानी अक्टूबर-नवंबर में फिर कपाट बंद हो जाते हैं. कपाट बंद होने पर भगवान केदारनाथ को पालकी से उखीमठ ले जाते हैं और वहां ओंकारेश्वर मंदिर में अगले 6 महीनों तक उनकी पूजा की जाती है. 

Find Us on Facebook

Trending News