पंचतत्व में विलीन हुए भारतीय पॉप के जनक बप्पी लहरी, नम आंखों और भावुक माहौल में बॉलीवुड ने दी डिस्को किंग को विदाई

पंचतत्व में विलीन हुए भारतीय पॉप के जनक बप्पी लहरी, नम आंखों और भावुक माहौल में बॉलीवुड ने दी डिस्को किंग को विदाई

DESK. मुंबई. बॉलीवुड के मशहूर सिंगर और संगीतकार बप्पी लहरी का गुरुवार को विले पार्ले में स्थित पवनहंस श्मशान घाट में उनका अंतिम संस्कार किया गया. उनका बुधवार को निधन हुआ था. अंतिम दर्शन के उपरांत बप्पा लहरी ने अपने पिता को मुखाग्नि दी. श्मशान घाट ले जाते समय बप्पा ने अपने पिता बप्पी के पार्थिव शरीर को कंधा दिया. बप्पी लाहिड़ी के शव को जिस वक्त घर से श्मशान घाट ले जाया जा रहा था तब सिंगर की बेटी बिलख बिलख को रो रही थीं. बेटे बप्पा की आंखें भी नम थीं.

भारत में डिस्को और पॉप सॉंग के जनक माने जाने वाले बप्पी लहरी के अंतिम दर्शन के लिए उनके जुहू स्थित लहरी हाउस पर सुबह से ही इंडस्ट्री से जुड़े हस्तियों का आना शुरू था. अलका याग्निक, शान, चंकी पांडेय, इला अरुण, राकेश रोशन, काजोल और तनुजा यहां पहुंचे थे. बप्पी लाहिड़ी का पार्थिव शरीर उनके जुहू स्थित घर से 10 बजे के करीब निकला था. उनकी अंतिम यात्रा में कई लोग शामिल हुए थे. विद्या बालन, अभिजीत भटाचर्या, शान, विंदु दारा सिंह, मीका सिंह बप्पी दा को आखिरी विदाई देने पहुंचे थे. 

बता दें कि बप्पी लहरी के निधन से उनका परिवार टूट गया है. सिंगर का निधन 15 फरवरी को रात 11 बजे हुआ था. उनका अंतिम संस्कार 16 फरवरी को नहीं हो सका था. क्योंकि उनके बेटे बप्पा लहरी भारत में नहीं थे. बप्पा लहरी लॉस एंजिलिस से वापस भारत लौट गये. मालूम हो कि बप्पी लहरी के जाने से बॉलीवुड इंडस्ट्री में शोक की लहर है. संगीत जगत ने एक सप्ताह के भीतर दो गायक को खो दिया. पहले लता मंगेशकर और फिर बप्पी लाहिड़ी. दोनों के निधन में 10 दिनों का भी फासला नहीं है

बप्पी लहरी पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे. डॉक्टर ने बताया कि उनकी ओएसए (ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एप्निया) के कारण मौत हुई. उन्होंने कहा कि लहरी करीब एक महीने से अस्पताल में भर्ती थे. उन्हें सोमवार को ही अस्पताल से छुट्टी दी गयी थी.  लेकिन मंगलवार को उनकी सेहत फिर से बिगड़ गयी. जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया. पिछले साल अप्रैल में बप्पी लहरी को कोरोना पॉजिटिव हो गये थे.


Find Us on Facebook

Trending News