सावधान: राजमिस्त्री अब मॉब लिंचिंग के नाम पर अपना रहे ऐसे हथकंडे

सावधान: राजमिस्त्री अब मॉब लिंचिंग के नाम पर अपना रहे ऐसे हथकंडे

JAMSHEDPUR : जमशेदपुर में मॉब लिंचिंग के नाम पर ब्लैकमेलिंग का नया मामला प्रकाश में आया है. जिले के आरआईटी थाना अंतर्गत बाबा कुटी में चंद्रशेखर ठाकुर के घर मुर्शिदाबाद का राजमिस्त्री एसके अनारुल ने 2 लाख 23 हजार में सिविल के काम ठेका पर लिया था. पिछले पांच महीने से कंस्ट्रक्शन का काम करने के दौरान अनारूल ने 2 लाख 8 हजार रुपए चन्द्र शेखर ठाकुर से ले लिया. 

इस दौरान धीरे- धीरे अनारूल चालाकी से साइट से अपना सामान लेकर निकल गया. इधर अनारूल ने आज फिर पैसों की मांग की. जिसपर मकान मालिक ने काम पूरा करने के बाद ही बकाया पैसे देने की बात कही. उन्होए अनारूल को साइट पर बुलाया. लेकिन पैर में चोट लगने का हवाला देकर उसने आने से मना कर दिया. 

इधर आज फिर से बचा- खुचा सामान लेकर अनारूल का साला भागने लगा. समान लेकर भागने के दौरान मकान मालिक ने अनारूल के साले को रोक लिया. उन्होंने आरआईटी थाना को सूचित कर दिया. इस बीच अनारूल ने चन्द्र शेखर ठाकुर को फोन पर अपने साले को छोड़ देने की बात कहते हुए कहा कि अगर उसके साले को वे नहीं छोड़ते हैं तो उसका साला हाथ का नस काट लेगा और दीवार पर सर पटक लेगा या बिजली के तार पर झूल जाएगा और मॉब लिंचिंग का प्रयास करने का केस कर देगा. 

जिसके बाद चन्द्र शेखर ठाकुर डर गए और परिवार सहित पुलिस के आने तक अनारूल के साले की सुरक्षा में जुटे रहे. इधर घटना की जानकारी मिलते ही भाजपा नेता अमितेश अमर अपने समर्थकों के साथ ठाकुर के घर पहुंचे. तब तक पुलिस भी पहुंच चुकी थी. जिसके बाद पुलिस अनारूल के साले को लेकर रोड नंबर 11 स्थित सिंहासन के मकान में पहुंचे, जहां अनारूल किराए पर रहता था. वहां पहुंचने के बाद भाजपा नेता अमितेश अमर और पुलिस ने दोनों पक्षों की बात सुनकर काम के बाद ही पैसे देने की बात कही. 

वहीं मॉब लिंचिंग की बात पर पुलिस और भाजपा नेता ने अनारूल को कड़ी फटकार लगाई. साथ ही अनारूल का आधार कार्ड की छाया प्रति करा कर रख लिया. मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा नेता अमितेश अमर ने बताया कि इस तरह का यह पहला मामला प्रकाश में आया है. 

जमशेदपुर से संतोष की रिपोर्ट  



Find Us on Facebook

Trending News