शराबबंदी से पहले लालू यादव ने सीएम नीतीश को किया था आगाह, बिहार टापू है, चारों तरफ से स्मगलिंग होगा

शराबबंदी से पहले लालू यादव ने सीएम नीतीश को किया था आगाह, बिहार टापू है, चारों तरफ से स्मगलिंग होगा

NEW DELHI : कल यानी 23 नवम्बर को राजद सुप्रीमो लालू यादव की सीबीआई की विशेष अदालत में पेशी होगी। कोर्ट ने उन्हें सदेह उपस्थित होने का निर्देश जारी किया है। इसके मद्देनजर लालू प्रसाद यादव दिल्ली से पटना के लिए रवाना हो गए हैं। चिराग पासवान के साथ मिलकर चुनाव लड़ने के सवाल पर लालू यादव ने कहा की सबको साथ मिलकर चुनाव लड़ना चाहिए।

वहीं बिहार में शराबबंदी को लेकर लालू प्रसाद यादव ने कहा कि बिहार मे यह कानून फेल हो चुका है। बिहार में शराब की बिक्री नहीं रुकी है। लोग जहरीला शराब पीकर उलट रहे हैं। उन्होंने शराबबंदी लागू करते समय नीतीश कुमार को आगाह किया था कि बिहार के चारों तरफ बंगाल,उत्तरप्रदेश ,झारखंड एवं नेपाल में खुले आम शराब की बिक्री हो रही है ऐसे में बिहार में शराब की तस्करी रोकना काफी मुश्किल होगा। यह टापू बन गया है। चारों तरफ से स्मगलिंग होगा। अब रेवेन्यु भी जा रहा है। लोग भी मर रहे हैं। शराब की होम डिलीवरी हो रही है। लेकिन नीतीश कुमार ने इसे सफलतापूर्वक लागू करने का भरोसा दिया था। उन्होंने कहा की नीतीश कुमार ने तारी से नीरा बनाने की बात कही थी। लेकिन नीरा बनाने के बजाय नीतीश की पुलिस तारी का कारोबार करने वाले समाज को परेशान करने मे लगी है। लोग ताड़ी उतारने चढ़े रहते हैं। नीचे पुलिस खड़ी रहती है। जिससे ताड़ी उतारनेवाले गिर कर मर जाते हैं। 

बिहार पुलिस द्वारा होटल या महिला के निजी रूम में सर्च करने के सवाल पर लालू यादव ने कहा कि नीतीश कुमार अपनी पुलिस से यही सब करवा रहें हैं। पुलिस को किसी ने गलत सूचना दी होगी और वह बिना कुछ सोचे समझे महिला के रूम तक पहुंच गई।

नई दिल्ली से धीरज कुमार की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News