दो सीटों पर उपचुनाव से पहले BJP ने जदयू को दिया दोहरा झटका, किया ऐसा काम कि राजद को भी होगा बड़ा नुकसान

दो सीटों पर उपचुनाव से पहले BJP ने जदयू को दिया दोहरा झटका, किया ऐसा काम कि राजद को भी होगा बड़ा नुकसान

PATNA : बिहार में दो सीटों पर होनेवाले उपचुनाव में अपनी जीत को लेकर आश्वस्त दिख रही जदयू और राजद को बीजेपी ने दोहरा झटका दिया है। जिसका बड़ा असर आनेवाले उपचुनाव में महागठबंधन के कैंडिडेट पर पड़ने से इनकार नहीं किया जा सकता है। 

जदयू के पूर्व विधायक  हुए बीजेपी में शामिल

जदयू को पहला बड़ा झटका हायाघाट से जदयू के पूर्व विधायक अमरनाथ गामी के रूप में लगा है, जिन्होंने नीतीश कुमार का साथ छोड़ अब भाजपा का दामन थाम  लिया है।  वहीं दूसरा बड़ा  समता पार्टी के स्‍थापना काल से ही नीतीश कुमार के साथ रहे सदानंद सिंह ने दिया है। गोपालगंज के पूर्व जिलाध्यक्ष रह चुके सदानंद सिंह ने भाजपा का दामन थाम लिया है। सदानंद सिंह के भाजपा के साथ जाने से कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर है।

समता से जदयू तक निभाया साथ 

बताया जाता है कि सदर प्रखंड के भीतभेरवा गांव निवासी सदानंद सिंह बिहार में समता पार्टी के स्थापना के समय से नीतीश कुमार के साथ जुड़े रहे। जिले में समता पार्टी की नीव रखने वाले शहर के हजियापुर वार्ड 27 निवासी भोला प्रसाद पटेल उर्फ भोला मास्टर के साथ मिलकर सदानंद सिंह जनता पार्टी को जिले में मजबूत बनाने का कार्य किया। बाद में समता पार्टी के बाद नीतीश कुमार की पार्टी की पहचान जदयू के रूप में होने लगी।

राधा मोहन सिंह की मौजूदगी में बदला दल 

सदानंद सिंह ने जदयू के जिला अध्यक्ष से लेकर कई पद पर कार्य किया। पार्टी को जिले में मजबूत बनाने का भी कार्य किया। लेकिन जदयू में आपसी कलह को लेकर उन्होंने विधानसभा के उप चुनाव के पूर्व पूर्व केंद्रीय मंत्री राधा मोहन सिंह की मौजूदगी में भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली। 

RJD  को भी नुकसान

झटका भले ही जदयू और नीतीश कुमार को लगा है, लेकिन राजद को भी इसका असर पड़ेगा। मोकामा और गोपालगंज उपचुनाव में राजद के प्रत्याशी मैदान में हैं। वहीं जदयू उन्हे सपोर्ट कर रही है। ऐसे में जदयू के बड़े नेता के भाजपा में चले जाने से एक बड़ा वोट बैंक भी भाजपा की तरफ शिफ्ट हो गया है।  ऐसे में राजद उम्मीदवार को भारी नुकसान होगा।



Find Us on Facebook

Trending News