बेटी का अंतरजातीय विवाह करने पर पंचायत ने सुनाया तालिबानी फैसला, पिता की पिटाई के बाद लगाया एक लाख का जुर्माना

बेटी का अंतरजातीय विवाह करने पर पंचायत ने सुनाया तालिबानी फैसला, पिता की पिटाई के बाद लगाया एक लाख का जुर्माना

KATIHAR : एक तरफ सरकार जहाँ अंतरजातीय विवाह को बढ़ावा देने के लिए कई कदम उठा रही है. वहीँ कटिहार के फलका थाना क्षेत्र से एक ऐसा मामला सामने आया है. जहां एक पिता को अपनी बेटी के अंतर्जातीय विवाह करने पर ग्रामीणों ने उन्हें तालिबानी फरमान सुनाते हुए गांव छोड़ देने का फरमान जारी किया है. इतना ही नहीं लड़की के पिता की रस्सी से बांधकर पिटाई भी की गयी है. अब पीड़ित परिवार इंसाफ की गुहार लगा रहा है. जबकि पुलिस ने पंचायती करने वालों पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दिया है. 

फलका थाना क्षेत्र के आदिवासी बिहार टोला में मताल हेम्ब्रम ने बताया कि उन्होंने उनकी बेटी  किरण कुमारी की शादी झारखंड में करवाया था. लेकिन ससुराल वालो के द्वारा प्रताड़ित करने पर जब लड़की भाग कर आई तो मजबूरी में पिता ने दोनों परिवार की रजामंदी से रामनाकोल गांव के लक्ष्मण लोहार से अपनी बेटी की शादी करवा दिया. इस शादी से दोनों परिवार खुश है और दोनों से एक बच्ची भी है. लेकिन अब इतने दिनों बाद गांव के सीताराम मरांडी के आदेश पर दूसरे जाति में अपने बेटी के शादी करवाने के आरोप पर पंचायत में मताल हेम्ब्रेम को घर से जबरन खींच कर लाने का फरमान सुनाया गया. इसके बाद रस्सी से बांधकर उसकी जमकर पिटाई की गयी. यहीं नहीं पंचायत ने इसके लिए एक लाख रूपये का आर्थिक दंड मुकर्रर किया. जिसमें पीड़ित परिवार अब तक तीस हजार बतौर जुर्माना दे चुका है. ऐसे में पीड़ित परिवार अब आगे रुपया नहीं दे पाने की स्थिति में पुलिस से उन्हें इंसाफ दिलाने की गुहार लगा रहा है. 

इस पूरे मामले पर सदर अनुमंडल के डीएसपी ने कहा कि इस मामले में पंचायती कर मारपीट करने वाले और जबरन जुर्माना वसूलने के आरोप में कई लोगों पर मामला दर्ज किया गया है. पुलिस पूरे प्रकरण की जांच करवाने की बात कह रही है. 

कटिहार से श्याम की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News