बेटी की शादी के लिए पिता ने लॉक डाउन का नियम तोड़ा, 60 लोगों पर मुकदमा दर्ज

बेटी की शादी के लिए पिता ने लॉक डाउन का नियम तोड़ा, 60 लोगों पर मुकदमा दर्ज

SUPAUL : कोरोना वायरस की जंग में सरकार ने कुछ सख्त नियम बनाए हैं. जिसमें लॉक डाउन और सोशल डिस्टेंसिंग सबसे अहम है. कुछ लोग इस नियम का पालन कर रहे हैं. लेकिन कुछ लोगों ने इसकी धज्जियां उड़ाई हैं. कोरोना की दुसरी लहर कहर बरपा रही है, रोजाना सैकड़ों लोगों से अधिक संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं इसके बावजूद शादी- विवाह या अन्य आयोजनो में लोग लापरवाही बरत रहे हैं, ताजा मामला जिले के जदिया थाना अन्तर्गत गुड़िया पंचायत से आ रही है, जहां गुड़िया वार्ड नम्बर 11निवासी खटर यादव पिता स्वर्ग फनी यादव ने अपनी बेटी के शादी में करीब 50 से 60 व्यक्तियों की भीड़ इकट्ठा की. शादी की सूचना सम्बन्धित थाने को नही दिया गया था. बुधवार को रात्रि शादी विवाह का कार्यक्रम संपन्न हो रहा था. उक्त विवाह कार्यकम का सूचना ग्रामीणों के द्वारा अनुमंडल पदाधिकारी एस जेड हसन को दिया गया. मौके पर अनुमंडल पदाधिकारी ने टीम गठित कर सीओ दिनेश प्रसाद, जदिया थाना प्रभारी राजेश कुमार चौधरी को जांच हेतु आदेश दिया. आदेश अनुसार सीओ, व जदिया थाना प्रभारी अपने दल बल के साथ शादी कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे. शादी कार्यक्रम में सैकड़ों लोग शामिल थे, पुलिस को देखते ही कार्यकम में शामिल लोग इधर उधर भागने लगे. लेकिन विवाह कार्यकम में प्रशासन के द्वार कोई रुकावट नहीं की गई, वही कार्यकम अधिक लोग शामिल किये जाने को लेकर खटर यादव सहित 60 अज्ञात लोगों पर कांड संख्या 105 /21 प्राथमिकी दर्ज की गई है. इनपर आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 और धारा 188 के तहत मुक़दमा दर्ज किया गया, 

श्राद्ध कर्म में शामिल होने पर मुकदमा

इसी तरह गंगा यादव पिता स्वर्ग छुतहरू यादव ग्राम खंगार पट्टी पंचायत गुड़िया वार्ड नम्बर 13 निवासी द्वारा अपनी पत्नी के मृत्यु भोज मे लोगों का भीड़ इकट्ठा करने की खबर अनुमंडल प्रसाशन को मिली. मौके पर सीओ, थाना प्रभारी को सत्यता की पता करने की आदेश दिये. भोज स्थल पर करीब 150 लोग शामिल थे. पुलिस को देखते ही लोग दुबकने लगे. वही धटना को सत्य पाये जाने को लेकर गंगा यादव सहित 150 अज्ञात  लोगों  पर कांड संख्या 106/2021 दर्ज कर लिया गया है. 

लोगों से अपील 

मामले में अनुमंडल पदाधिकारी एस जेड हसन ने बताया कि गुड़िया पंचायत में दो अलग- अलग वार्ड में शादी एवं मृत्यु भोज मे गाइडलाइन निर्धारित संख्या से अधिक लोगों को इकट्ठा करने की खबर मिली थी. खबर मिलते ही जांच टीम गठित किया गया. मौके पर जांच टीम पहुंची तो वहां शादी में करीब 60 लोग एवं मृत्यु भोज मे करीब 150 लोग शामिल थे. सभी के उपर जदिया थाना में  मुक़दमा दर्ज करते हुए पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है. उन्होंने आम जनों से अपील किया की शादी-विवाह, तिलक समारोह औए श्राद्ध कार्यक्रमों में अत्यधिक भीड़ जुटने पर संक्रमित होने की संभावना काफी बढ़ जाती है. ऐसे में कोरोना काल में होने वाले शादी-विवाह समेत अन्य समारोह के आयोजन ध्यान रखा जाना बेहद जरूरी है. आपको बता दें कि गृह मंत्रालय द्वारा जारी दिशानिर्देशों के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान शादी की इजाजत कुछ शर्तों के साथ दी गई है. शर्त यह है कि शादी समारोह में 20 से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो पाएंगे. यानी वर और वधू पक्ष दोनों की तरफ से कुल 20 लोग ही शादी में हिस्सा ले सकते हैं.मृत्यु भोज में सिर्फ 20 लोग शामिल होंगे. 

सुपौल से संवाददाता पप्पू आलम की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News