भाजपा सांसद के झोला छाप कहने पर भड़के ग्रामीण चिकित्सक, धरना का किया आयोजन

भाजपा सांसद के झोला छाप कहने पर भड़के ग्रामीण चिकित्सक, धरना का किया आयोजन

GAYA : औरंगाबाद के भाजपा सांसद सुशील कुमार सिंह की और से ग्रामीण चिकित्सकों को झोलाछाप डॉक्टर कहने पर उनमें खासी नाराजगी है. इस मामले को लेकर बुधवार को ग्रामीण चिकित्सा सेवा समन्वय समिति के बैनर तले धरना का आयोजन किया गया. 

इस मौके पर समिति के जिलाध्यक्ष ने कहा की सांसद सुशील कुमार सिंह ने ग्रामीण चिकित्सकों को झोलाछाप कह कर जिलाधिकारी को एक ज्ञापन सौंपा था. इस संदर्भ में जिलाधिकारी ने लोगों पर कार्रवाई करने के लिए आदेश निर्गत किया है. 

उन्होंने कहा की ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे लोगों के लिए स्वास्थ्य केंद्र खुले, वहां पर डॉक्टर उपलब्ध रहे, ग्रामीण क्षेत्र में रह रहे लोगों को अच्छी स्वास्थ सुविधा मिले, लेकिन ऐसा व्यवस्था ना करके जो व्यवस्था है उसको भी हटाने का काम किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि सांसद सुशील कुमार सिंह भाजपा विरोधी का काम कर रहे हैं. ग्रामीण चिकित्सकों का जो प्रशिक्षण हुआ था. उसका उद्घाटन भाजपा के स्मृति ईरानी, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपेंद्र कुशवाहा ने किया था. 

उन्होंने सरकार से मांग किया कि ग्रामीण चिकित्सकों को प्रशिक्षण दिया है उसे और प्रशिक्षण दे. जो लोग ट्रेनिंग लेकर पास हुए हैं उसको औरंगाबाद के सांसद द्वारा झोला-छाप नहीं बोलना चाहिए था. वे अपने शब्द को वापस ले अन्यथा आगे भी आंदोलन जारी रहेगा. 

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News