भारत सीमाई इलाकों में कोरोना के फैलाव से नेपाल स्वास्थ्य मंत्रालय में हड़कंप, जारी किये कई दिशा निर्देश

भारत सीमाई इलाकों में कोरोना के फैलाव से नेपाल स्वास्थ्य मंत्रालय में हड़कंप, जारी किये कई दिशा निर्देश

ARARIA : भारत के सीमाई इलाकों में कोरोना वायरस के दुबारा फैलाव होने से नेपाल में हड़कंप मच गया है. भारतीय सीमावर्ती इलाके में लगातार बढ़ रहे कोरोना मरीजों की संख्या को लेकर स्वास्थ्य और जनसंख्या मंत्रालय,नेपाल सरकार ने नोटिस जारी किया है,जिसमे नेपाल खासकर भारत से लगने वाले सीमाई इलाकों में एहतियात बरतने की अपील की गई है. पत्र में स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि भारत मे कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ गया है और खुली सीमा क्षेत्र में विशेष सतर्कता बरतने की आवश्यकता है. नेपाल में सुरक्षा सावधानी बरतने का अनुरोध करते हुए एक प्रेस विज्ञप्ति जारी की गई है. मंत्रालय की ओर से बयान में कहा गया है कि पिछले कुछ हफ्तों में दुनिया भर में और पड़ोसी देशों में कोविड 19 के संक्रमण डर में काफी तेजी से बढ़ोतरी हुई है. 

नेपाल में संक्रमण बढ़ने के जोखिम को ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य और जनसंख्या मंत्रालय ने नेपाल में सभाओं,जुलूस,रैलियों, समारोहों, सम्मेलन,संगोष्ठी,बैठक भीड़भाड़ वाले व्यवसाय और काम न करने का अनुरोध किया है. जारी सूचना में सामाजिक दूरी बनाए रखने और स्वास्थ्य सुरक्षा मानकों जैसे मास्क पहनने और सैनिटाइजर का प्रयोग करने का अनुरोध किया गया है. 

गौरतलब हो कि नेपाल से सटे अररिया जिले में 24 घंटे में 7 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं. कोरोना पॉजिटिव मरीज के मिलने के बाद एक बार फिर से प्रभावित क्षेत्रों में लोगों की आवाजाही को रोकने के लिए बांस की बैरिकेडिंग कर दी गई है और प्रभावित इलाके को माइक्रो कंटेन्मेंट जोन घोषित किया गया है. फ़ारबिसगंज में मिले कोरोना पॉजिटिव मरीजों के सम्पर्क में आये लोगों को चिन्हित करने का काम शुरू कर दिया गया है. जिला में सात सक्रिय कोरोना पॉजिटिव मरीज हैं,वहीं दो दिन पहले जांच में पॉजिटिव आये एक महिला की मौत उसी शाम में हो गयी. 


Find Us on Facebook

Trending News