भारी भाषण से टुटा मंच, कांग्रेस नेता इमरान प्रतापगढ़ी पढ़ रहे थे शायरी तभी पैरों के नीचे से खिसका मंच

भारी भाषण से टुटा मंच, कांग्रेस नेता इमरान प्रतापगढ़ी पढ़ रहे थे शायरी तभी पैरों के नीचे से खिसका मंच

पश्चिमी चंपारण: बिहार विधानसभा चुनाव के मंच से लगातार भाषण बाजी जारी है. पहले चरण का मतदान समाप्त होते ही सभी पार्टियां दूसरे चरण के तैयारी में लगी हुई है. बिहार चुनाव में प्रचार के दौरान मंचों के टूटने का सिलसिला लगातार जारी है. दरभंगा जिले में एक प्रत्याशी का मंच टूटने का वीडियो सामने आया था. अब पश्चिमी चंपारण जिले में सभा के दौरान मंच भरभराकर ढह गया. यहां के बागही देवराज में सार्वजनिक रैली के दौरान यह मंच टूटा  है. इस दौरान मंच पर बैठे सभी नेता जमीन पर गिर गए. हालांकि, इस हादसे में किसी भी नेता को गंभीर चोट नहीं लगी है. जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस पार्टी की रैली थी. रैली में पार्टी के नेता इमरान प्रतापगढ़ी और अखिलेश सिंह के साथ कई कार्यकर्ता मंच पर मौजूद थे. इमरान प्रतापगढ़ी मंच से शायरी पढ़ रहे थे. इसी दौरान मंच अचानक भरभरा कर ढह गया.

दरअसल, कल दरभंगा जिले में एक प्रत्याशी का मंच टूटने का वीडियो सामने आया था. मामला जाले विधानसभा सीट का था, जहां भाषण देते वक्त एक प्रत्याशी का मंच ही टूट गया. अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में जिन्ना की तस्वीर मामले से चर्चा में आए जाले विधानसभा से कांग्रेस  उम्मीदवार मशकूर अहमद उस्मानी का मंच टूटने का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. जब ये मंच टूटा तब वो जनता से संवाद कर रहे थे.

मंच टूटने से पहले मशकूर अहमद उस्मानी भाषण देते दिख रहे थे. छोटे से मंच पर उस्मानी के साथ कुर्सी पर बैठे और भी लोग देखे जा सकते हैं. जैसे ही उस्मानी ने खड़े हो कर अपना भाषण शुरू किया और कहा कि जनता को सरकार चुनने का मौका मिलता है और लोकतंत्र में लोग जानते हैं कि किसको कब उठाना है और कब गिरा देना है. उस्मानी ने जैसे ही 'गिरा देना है' कहा कि मंच खुद से गिर जाता है और समर्थकों के साथ मशकूर अहमद उस्मानी भी गिर जाते हैं, जिसके बाद वहां कुछ देर के लिए अफरा-तफरी सा माहौल हो गया.


Find Us on Facebook

Trending News