बिहार सरकार को लेकर कल्लू ने कह दी बड़ी बात - यहां शूटिंग के लिए नहीं मिलती सुरक्षा

बिहार सरकार को लेकर कल्लू ने कह दी बड़ी बात - यहां शूटिंग के लिए नहीं मिलती सुरक्षा

पटना। भोजपुरी के लोकप्रिय सिंगर अरविंद सिंह कल्लू ने बिहार सरकार पर फिल्मों की शूटिंग को लेकर सहयोग नहीं करने को लेकर सवाल उठाया है। न्यूज4नेशन के साथ किए बातचीत में कल्लू ने कहा कि बिहार में कई ऐसी खूबसूरत जगह हैं, जहां हम फिल्मों की शूटिंग कर सकते हैं। लेकिन नहीं कर पाते हैं। कल्लू ने कहा कि बिहार सरकार से भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री को पूरा सहयोग नहीं मिलता है। उन्होंने कहा कि यूपी में रिजनल फिल्मों को सब्सिडी दी जाती है, जिसके कारण आज ज्यादातर भोजपुरी फिल्मों की शूटिंग वहां की जा रही है. लेकिन बिहार के साथ ऐसा नहीं है। 

कल्लू ने कहा बिहार में भोजपुरी फिल्मों को न तो सब्सिडी दी जाती है, न ही शुटिंग के दौरान पूरी सुरक्षा ही उपलब्ध कराई जाती है। जिसके कारण कोई भी यहां चाहकर भी काम नहीं कर पाता है। कल्लू ने कहा हम चाहते हैं कि बिहार सरकार भोजपुरी इंडस्ट्री के लिए बेहतर माहौल और सुविधा उपलब्ध कराए, ताकि बिहार का पैसा बिहार में खर्च किया जाए।

यू-ट्यूब पर सबसे ज्यादा सर्च होते हैं भोजपुरी गाने

छोटी उम्र से गायकी के क्षेत्र में बड़ा नाम कमा चूके कल्लू ने भोजपुरी भाषा को लेकर कहा आज यू-ट्यूब पर इसे बॉलीवूड के बाद सबसे ज्यादा सर्च किया जाता है। शादी समारोहों में पंजाबी गानों के बाद सबसे ज्यादा भोजपुरी गाने बजते है। अंतररारष्ट्रीय स्तर पर भोजपुरी अपनी पहचान बनाने में कामयाब हुआ है, लेकिन इसके बाद भी इस पर अश्लिलता फैलाने का आरोप लगता है। कल्लू ने कहा कि वह चाहते हैं इस भाषा पर लगा दाग को मिटा दें, जिसके लिए प्रयासरत हैं। 

शुरुआत में उठानी पड़ी परेशानी

अपनी नीजि जिंदगी के राज खोलते हुए अरविंद सिंह ने बताया कि छोटी उम्र में गाने लगा था। लेकिन परेशानी यह थी कि परिवार में कोई भी इस क्षेत्र से जुड़ा हुआ नहीं था, जिसके कारण शुरुआत में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। पिताजी ने स्थानीय हारमोनियम और बैंजो बजानेवालों के साथ काम दिलाया, फिर धीरे धीरे गाने लोकप्रिय होने लगे और आज खुद को इस मुकाम पर पहुंचाने में कामयाब हुआ हूं।

दसवीं तक ही कर सके पढ़ाई 

कल्लू ने बताया कि परिवार में वह पढ़ाई में सबसे अच्छे थे। बनारस के एक प्राइवेट स्कूल में प्रारंभिक शिक्षा हुई। लेकिन फिर शो और फिल्मों में व्यस्तता बढ़ती चली गई,  जिसके कारण सिर्फ दसवीं तक ही पढ़ाई कर सका। कल्लू ने अपनी पढ़ाई अधूरी रहने को लेकर निराशा भी जाहिर की। उन्होंने कहा कि पढ़ाई पूरी नहीं होने के बाद इतना जरूर है कि कहीं भी जाने पर परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है। 

विवाद पर किया किनारा

भोजपुरी कलाकार के हालिया विवाद पर कल्लू ने किनारा कर लिया। हालांकि इस दौरान उन्होंने इस बात पर चिंता जरुर जाहिर की कि यहां जातिवाद के नाम पर कलाकारों को पसंद किया जाता है और उनके गाने सुने जाते हैं। कुछ लोग दूसरे कलाकारों को दबाने की कोशिश में लगे हैं, उन्होंने इसे पूरी तरह से गलत बताया है। 

एक्टर बनने पर कहा

कल्लू ने कहा भोजपुरी फिल्मों में रवि किशन जी को छोड़कर सभी बड़े एक्टर गायकी के क्षेत्र से जुड़े रहे हैं. इन्हें देखकर मैंने भी तय कर लिया था कि बड़े होकर फिल्मों में हीरो बनना है। बचपन में कई फिल्मों में काम करने का मौका मिला, आज कई फिल्मों बतौर हीरो काम करने का मौका मिल चुका है।



Find Us on Facebook

Trending News