भूलकर भी इन 05 तरह की राखी भाई की कलाई पर न बांधे ,हो सकता है जीवन में भारी नुकसान

भूलकर भी इन 05 तरह की राखी भाई की कलाई पर न बांधे ,हो सकता है जीवन में भारी नुकसान

DESK: रक्षाबंधन  हिंदुओं का एक पवित्र त्योहार है ,हर साल इसे बड़ी धूम-धाम से बनाया जाता है और इस साल भी राखी को त्योहार आज से कुछ ही दिनों बाद 03 अगस्त को मनाया जायेगा हालांकि इस कोरोना काल में राखी के बाजार की रौनक थोड़ी फीकी है सभी बहनें ज्यादातर अपने भाइयों के लिये ऑनलाइन ही राखी की खरीदारी कर रही है परक्या आप जानते है कि किस तरह की राखी आपको अपने भाई को नहीं बांधनी चाहिये. तो आइये जानते है किस तरह की राखियों को अशुभ माना जाता है 

काले रंग की राखी


बहनों को अपने भाई की कलाई पर काले रंग की राखी कभी नहीं बांधनी चाहिए.माना जाता है कि काले रंग की राखी बांधने से अशुभ समय शुरू हो जाता है. शास्त्रों के अनुसार, काले रंग का सीधा संबंध शनि देव से है. शनि देव को कार्य में विलंब करने वाला ग्रह माना जाता है. ऐसे में रक्षा बंधन पर काले रंग की राखी भूलकर भी न बांधे.

टूटी या खंडित राखी

रक्षाबंधन पर बहनों को भाई की कलाई पर टूटी या खंडित राखी नहीं बांधनी चाहिए  माना जाता है कि ऐसी राखी बांधनी से रिश्तों में खटास आती है.

प्लास्टिक की राखी

भाई की कलाई पर प्लास्टिक की राखियों को भी नहीं बांधना चाहिए. कहा जाता है कि प्लास्टिक अशुद्ध चीजों से बनती है, ऐसे में प्लास्टिक की राखी बांधने से जीवन में दुर्भाग्य की शुरू हो सकता है.

अशुभ चिन्हों वाली राखी

अक्सर लोग राखी खरीदते वक्त डिजाइन या अशुभ चिन्हों का ध्यान नहीं देते हैं. लेकिन रक्षा बंधन पर कभी भी भाई के कलाई पर अशुभ चिन्हों वाली राखी नहीं बांधनी चाहिए.माना जाता है कि ऐसा करने से अशुभ समय शुरू हो जाता है.

भगवान वाली राखी

भाई की कलाई पर भगवान वाली राखी भी नहीं बांधनी चाहिए. इसके पीछे का कारण है कि अगर राखी खुलकर जमीन पर गिर जाती है और किसी के पैरों पर पड़ सकती है. जिसके कारण अनजाने में भाई को पाप का भागीदार होना पड़ सकता है. ऐसे में भगवान की प्रतिमा वाली राखी नहीं खरीदनी चाहिए.

Find Us on Facebook

Trending News