भूमिहार ब्राह्मण समाजिक फ्रंट ने प्रतिनिधि सम्मेलन में किया ऐलान, कहा जो सम्मान देगा हम उसका साथ देंगे

भूमिहार ब्राह्मण समाजिक फ्रंट ने प्रतिनिधि सम्मेलन में किया ऐलान, कहा जो सम्मान देगा हम उसका साथ देंगे

MUZAFFARPUR : समाज को संगठित एवं संघर्षशील बनाने के संकल्प के साथ भूमिहार ब्राह्मण समाजिक फ्रंट का एक दिवसीय प्रतिनिधि सम्मेलन रविवार को नरियार स्थित पावर ट्रैक ट्रैक्टर एजेंसी के परिसर में संपन्न हुआ। सम्मेलन की अध्यक्षता प्रखंड अध्यक्ष पूर्व मुखिया प्रमोद ठाकुर तथा संचालन पूर्व प्रमुख मणि भूषण शर्मा ने किया। इस मौके पर सम्मेलन का उद्घाटन बिहार केसरी श्री बाबू के चित्र पर माल्यार्पण तथा दीप प्रज्वलित कर फ्रंट के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश शर्मा व कार्यकारी अध्यक्ष अजीत कुमार सहित अन्य नेताओं ने संयुक्त रूप से किया गया। कार्यक्रम के प्रारंभ में कार्यक्रम के संयोजक विनय ठाकुर व  पूर्व मुखिया डब्ल्यू सिंह ने आगत अतिथियों का स्वागत किया। इस मौके पर लगभग 200 से अधिक समाज के बुजुर्गों का अंग वस्त्र देकर सम्मानित भी किया गया। 


इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में सम्मेलन को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री अजीत कुमार ने कहा कि आज हमारा समाज सब कुछ रहते हुए भी  कतिपय कारणों से सामाजिक एवं राजनीतिक रूप से हाशिए पर चला गया है। स्थिति है कि आज  इस देश की सभी राजनीतिक पार्टियां हमारे समाज को पिछलागू एवं मजबूर समझने लगा है। जो गंभीर चिंता का विषय है। उन्होंने उपस्थित प्रतिनिधियों का आवाहन करते हुए कहा कि आप आपसी मतभेद व कटुता समाप्त कर एकजुट हो नहीं तो आने वाले दिनों में आप का अस्तित्व खतरे में पड़ जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि हमें अब किसी से परहेज नहीं है जो हमारे समाज को सम्मान देगा, हम सब उसका साथ देंगे। उन्होंने नौजवानों का आह्वान करते हुए कहा कि आप नशा त्याग कर मुख्यधारा से जुड़े एवं अपने पूर्वजों के विरासत को पुनर्स्थापित करने के लिए एकजुट हो।

इस अवसर पर सम्मेलन को संबोधित करते हुए फ्रंट के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश शर्मा ने कहा कि हमारे समाज का गौरवशाली अतीत रहा है। आजादी की लड़ाई से लेकर देश- प्रदेश के नवनिर्माण में इस समाज का अद्वितीय योगदान रहा है। लेकिन आज हम आपस में बिखर गए हैं जिस कारण से हम राजनैतिक, सामाजिक व सांस्कृतिक रूप से कमजोर हुए हैं। ऐसे में हमें एकजुट होकर अपने पुरखों के विरासत को पुनर्स्थापित करना समय की मांग है। सम्मेलन को संबोधित करते हुए फ्रंट के जिला अध्यक्ष अरुण कुमार सिंह ने कहा कि हमें आपसी कटुता भुलाकर एकजुट होना पड़ेगा , तभी हम अपनी खोई हुई सम्मान प्रतिष्ठा पुनः वापस ले पाएंगे। इस मौके पर फ्रंट के महासचिव धर्मबीर शुक्ला ने नौजवानों का आवाहन करते हुए कहा कि आप समाज के  सभी धर्म व वर्ग के लोगों से रिश्ता जरुर रखें, लेकिन चौखट के बाहर। तभी आपका सामाजिक प्रतिष्ठा सम्मान बचेगा। 

इस अवसर पर फ्रंट के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश शर्मा एवं कार्यकारी अध्यक्ष अध्यक्ष अजीत कुमार ने तरूणा नामक उपन्यास एवं अरुणोदय नामक कविता काव्य संग्रह पुस्तक का विमोचन किया। इस दोनों पुस्तक के लेखक मदन मोहन मैत्रेय को फ्रंट की ओर से सम्मानित भी किया गया। इस मौके पर फ्रंट की ओर से सामूहिक भोज का भी आयोजन किया गया। सम्मेलन को फ्रंट के वरिष्ठ नेता गोपाल साही, पुरुषोत्तम पांडे, भानु बाबू, विनय ठाकुर, डब्ल्यू सिंह, अशोक सिंह, अवधेश सिंह, संजीत कुमार ठाकुर, अभय तिवारी ,भूषण कुमार सिंह, कमलेश कुमार ,सुरेश प्रसाद सिंह, शांतनु सत्यम तिवारी, अंकित ओझा, अभिषेक कुमार, सर्वेश कुमार मुन्ना, संजय दुबे , , चुम्मन पांडे ,ललित चौधरी, सुबोध सिंह महंत ,मनोज पांडे ,सुनील शर्मा ,पप्पू पांडे, निखिल कुमार आदि लोगों ने संबोधित करते हुए समाज को एकजुट होने का लोगों से अपील किया।

मुजफ्फरपुर से अरविन्द अकेला की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News