बेबस सिस्टम का हाल देखिए! यहां बैंक लूट और हत्याकांड के आरोपित भी आसानी से शिक्षक और जन प्रतिनिधि बन जाते हैं...

बेबस सिस्टम का हाल देखिए! यहां बैंक लूट और हत्याकांड के आरोपित भी आसानी से शिक्षक और जन प्रतिनिधि बन जाते हैं...

MOTIHARI: बेबस सिस्टम का हाल देखिए। हत्या व लूटकांड के फरार आरोपित भी यहां बड़े ही आसानी से शिक्षक व जन प्रतिनिधि तक बन जाते हैं। पुलिस व प्रशासन को इसकी भनक तक नहीं लगती। जी हां, हम बात कर रहे हैं मोतिहारी के चिरैया से सामने आये एक ऐसे ही मामले की। 

आज से करीब 14 साल पहले जिले के मधुबन में हुए बैंक लूट व गार्ड की हत्या मामले में फरार चल रहे भूषण पासवान और अशोक पासवान को आज जब मोतिहारी पुलिस ने गिरफ्तार किया तो उनकी आंखे भी खुली की खुली रह गयी। एक आरोपित भूषण पासवान नव सृजित प्राथमिक विद्यालय भालाटोला में प्रधान शिक्षक तो दूसरा आरोपित अशोक पासवान खड़तरी मध्य से पंचायत समिति सदस्य बन कर मजे की जिंदगी जी रहा था। दोनों पर पूर्व में नक्सली संगठन से जुड़े होने का आरोप है।

जाने क्या है पूरा मामला 

बता दें कि पूर्वी चंपारण जिले के मधुबन में वर्ष 2005 एसबीआई की शाखा में एक बड़ी लूट की घटना हुई थी। लूट के दौरान अपराधियों ने बैंक के गार्ड की हत्या कर उसकी दोनाली बंदूक भी लूट ली थी। तब से पुलिस इसके आरोपितों को ढूंढ रही थी। जबकि इस मामले के आरोपित भूषण पासवान और अशोक पासवान मजे की जिंदगी जी रहा था।

मोतिहारी से रुपेश पांडेय की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News