गृह मंत्रालय के ‘भ्रष्ट’ अफसरों के खिलाफ सीबीआई की बड़ी कार्रवाई, 40 स्थानों पर छापेमारी, 14 अधिकारी गिरफ्तार

गृह मंत्रालय के ‘भ्रष्ट’ अफसरों के खिलाफ सीबीआई की बड़ी कार्रवाई, 40 स्थानों पर छापेमारी, 14 अधिकारी गिरफ्तार

DESK. विदेशी फंडिंग कानूनों का उल्लंघन करने वाले गैर-लाभकारी संगठनों पर शिकंजा कसते हुए सीबीआई ने गृह मंत्रालय के अफसरों पर देश भर में बड़ी कार्रवाई की है. मंत्रालय के करीब 14 लोगों को रिश्वत के मामले में गिरफ्तार किया है. सीबीआई  ने यह छापेमारी गोपनीय तरीके से मंगलवार को शुरू की और एक के बाद एक 40 स्थानों पर छापा मार कर गृह मंत्रालय (विदेशी योगदान (रेग्युलेशन) अधिनियम प्रभाग) के छह अधिकारियों सहित 14 लोगों को गिरफ्तार किया है. 

सीबीआई की यह छापेमारी दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, झारखंड, हिमाचल प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, असम और मणिपुर में 40 स्थानों पर की है. सूत्रों ने गुरुवार को बताया कि छापेमारी में सीबीआई को कई महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट्स, मोबाइल फोन के साथ ही 3.21 करोड़ रुपये की नकदी भी बरामद हुई है. 

गिरफ्तार किये गये गृह मंत्रालय के अधिकारियों में प्रमोद कुमार भसीन (वरिष्ठ लेखाकार, जो पहले एफसीआरए डिवीजन में तैनात थे), आलोक रंजन (अधिकारी, पहले एफसीआरए डिवीजन में काम करते थे), राजकुमार (लेखाकार, एफसीआरए), मोहम्मद शहीद खान (सहायक निदेशक, एफसीआरए), मोहम्मद गजनफर अली (अधिकारी, जो पहले एफसीआरए डिवीजन में तैनात थे) और तुषार कांति रॉय (एफसीआरए के अधिकारी) शामिल हैं. गृह मंत्रालय के अधिकारियों के साथ ही सीबीआई ने पवन कुमार शर्मा, रामानंद पारीक (चेन्नई में स्थित हवाला ऑपरेटर), रॉबिन देवदास, रविशंकर अंबस्थ, मनोज कुमार, संतोष कुमार प्रसाद, अमिता चंद्रा और वागीश (चार्टर्ड अकाउंटेंट) को भी गिरफ्तार किया है.

सीबीआई ने कहा कि गृह मंत्रालय के इन अफसरों ने FCRA के तहत रजिस्ट्रेशन/रजिस्ट्रेशन के रिन्यूअल के साथ ही एफसीआरए से संबंधित अन्य कामों के जरिए गैर सरकारी संगठनों को लाभ पहुंचाया. इसके एवज में रिश्वत ली गयी. इन मामलों में सीबीआई ने FCRA के 7 अफसरों समेत 36 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की है. सीबीआई ने यह कार्रवाई गृह मंत्रालय की ओर से उपलब्ध इनपुट के आधार पर की है. सीबीआई ने कहा कि FCRA डिवीजन के कुछ अधिकारी बिचौलियों के साथ-साथ प्रमोटरों और विभिन्न गैर सरकारी संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ साजिश में शामिल थे.


Find Us on Facebook

Trending News