शत्रुघ्न सिन्हा पर हेराफेरी का बड़ा आरोप, ख़ामोशी तुड़वाने पूछताछ के लिए बुला सकता है प्रवर्त्तन निदेशालय

शत्रुघ्न सिन्हा पर हेराफेरी का बड़ा आरोप, ख़ामोशी तुड़वाने पूछताछ के लिए बुला सकता है प्रवर्त्तन निदेशालय

नई दिल्ली. पूर्व सांसद और सिने स्टार शत्रुघ्न सिन्हा के खिलाफ हेराफेरी का आरोप लगा है. उनके खिलाफ अवैध तरीके से एक जमीन का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया गया है. शिकायतकर्ता ने इस संबंध में प्रवर्त्तन निदेशालय को चिट्ठी लिखकर शॉटगन शत्रुघ्न सिन्हा के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है. 

शिकायतकर्ता संदीप दबाधे की मानें तो उनके परिवार की 60 हजार वर्गफीट जमीन पर शत्रुघ्न सिन्हा के परिवार ने अवैध रूप से कब्जा जमा रखा है. संदीप का कहना है कि 2002 में उनके पिता गोरखनाथ दबाधे ने अपनी 60 हजार वर्गफीट जमीन की पॉवर ऑफ अटॉर्नी शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे कुश और उनकी पूनम के नाम की थी. 2004 से सिन्हा परिवार उस जमीन का इस्तेमाल कर रहा है. उनका कहना है कि इसी बीच वर्ष 2007 में गोरखनाथ का निधन हो गया. इस आधार पर उस जमीन का मलिकाना हक़ संदीप का होना चाहिए. 

संदीप की माने तो शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे कुश ने न सिर्फ जमीन बेचने की कोशिश की बल्कि पिता शत्रुघ्न के नाम का फायदा उठाकर जमीन को राजस्व विभाग में अपने नाम से दिखाने की भी कोशिश की. जब इस संबंध में संदीप में मुम्बई पुलिस से शिकायत की तो पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया. 

अब संदीप ने इस मामले में प्रवर्त्तन निदेशालय को डाक से शिकायती पत्र लिखा है और शत्रुघ्न सिन्हा के खिला कार्रवाई की मांग की है. हालाँकि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि अब इस शिकायत पर प्रवर्त्तन निदेशालय कार्रवाई करेगा या नहीं. दरअसल प्रवर्त्तन निदेशालय ज्यादातर उन मामलों में कार्रवाई करता है जिसमें पैसे का सीधा लेनदेन हो. ऐसे में संभव है कि इस मामले को पहले जाँच के लिए पुलिस के पास भेजा जाए और बाद में उस आधार पर कोई फैसला लिया जाए. 


Find Us on Facebook

Trending News