चिराग का बड़ा हमला, नीतीश कुमार को बिहार ‘पलटूराम’ के रूप में रखेगी याद, कौन कहता है यह विकास पुरुष हैं

चिराग का बड़ा हमला, नीतीश कुमार को बिहार ‘पलटूराम’ के रूप में रखेगी याद, कौन कहता है यह विकास पुरुष हैं

पटना. लोजपा (रामविलास) के अध्यक्ष चिराग पासवान ने सोमवार को कहा कि नीतीश कुमार को सिर्फ मुख्यमंत्री कैसे बने रहें, इस बात की चिंता है. उन्हें विकास से कोई मतलब नहीं है. जबकि चिराग मॉडल तो विकास का मॉडल है. बिहार की 32 लाख जनता ने हमें सपोर्ट किया. उनका मॉडल क्या है, यह उन्हें बताना चाहिए. 

जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह द्वारा लोजपा –रामविलास के अध्यक्ष चिराग पासवान पर रविवार को निशाना साधते हुए जदयू के वर्ष 2020 विधानसभा चुनाव में सीटें घटने के पीछे साजिश करार दिया था. ललन सिंह ने चिराग मॉडल का नाम देकर कहा था कि जदयू का जनाधार नहीं घटा है बल्कि चिराग मॉडल से हमें कमजोर करने की साजिश रची गई थी. अब वैसी ही साजिश आरसीपी सिंह के रूप में थी जिसे ललन सिंह ने चिराग मॉडल-2 नाम दिया था. 

इसी पर पलटवार करते हुए चिराग ने कहा कि नीतीश कुमार अपना आंख का इलाज कराने दिल्ली जाते हैं. सारण में जहरीली शराब से मौत हो जाती है. आपके राज में एक दिन 10 हत्या होती है. लेकिन आपको बिहार में अपने सरकार का यह फेल्योर नहीं दिखता. ललन सिंह के बयान कि जदयू डूबता नहीं बल्कि दौड़ता जहाज है पर तंज कसते हुए चिराग ने कहा कि पानी में चलने वाला जहाज दौडेगा कैसे. क्या उपेंद्र कुशवाहा साल 2020 बिहार विधानसभा चुनाव में चिराग मॉडल के प्रतीक नहीं है. गौरतलब है कि उपेंद्र कुशवाहा उस समय जदयू से अलग चुनाव लड़े और नीतीश कुमार के दल ने बाद में उन्हें जदयू में शामिल कर लिया. 


चिराग ने कहा कि नीतीश कुमार ने अपने ही कई नेताओं का राजनीतिक वध किया. शरद यादव, जार्ज फर्नांडिस, प्रशांत किशोर के साथ क्या हुआ, सब जानते हैं. उन्होंने सीएम नीतीश से सवाल किया कि 2015 में आप जिनके साथ गए थे तब जंगलराज याद नहीं था. किसने तैयार किया चिराग मॉडल . जेडीयू इस सवाल का जवाब दें. कितना इंतजार कर रहे हैं. 

उन्होंने कहा कि चिराग किसी का मॉडल है तो वो रामविलास पासवान का था. जीते जी रामविलास पासवान को अपमानित करने का कोई मौका नहीं छोड़ा. हम चाहते थे कि नीतीश कुमार अपने 7 निश्चय में बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट को जोड़ा जाए. इस बात को लेकर हमारी तनातनी शुरू हुई. मेरी पार्टी और परिवार को नीतीश कुमार ने तोड़ा और आज खुद ही पार्टी टूट रही है तो बहाना बना रहे हैं. क्या नीतीश कुमार चाहते हैं उन्हें पलटूराम की तरह याद करें


Find Us on Facebook

Trending News