बिग ब्रेकिंग : जदयू एमएलसी को जिलाध्यक्ष के चुनाव में मिली शर्मनाक हार, मिले सिर्फ एक वोट, पढ़िये पूरी खबर

बिग ब्रेकिंग : जदयू एमएलसी को जिलाध्यक्ष के चुनाव में मिली शर्मनाक हार, मिले सिर्फ एक वोट, पढ़िये पूरी खबर

PATNA : नीतीश कुमार के करीबी और जदयू के एमएलसी सोनेलाल मेहता गए थे जिलाध्यक्ष का चुनाव लड़ने, लेकिन ऐसी शर्मनाक हार की कल्पना तक उन्होंने नहीं की होगी। गौरतलब है की जनता दल यू के द्वारा जिला और प्रखंड स्तर पर संगठन को मजबूत करने के लिए लोकतंत्रात्मक ढंग से अध्यक्षों के चयन की प्रक्रिया जारी है, इसी सिलसिले में जिलाध्यक्ष का चुनाव भी होना था।

बता दें की इससे पहले जिलाध्यक्षों के मनोनीत होने का दौर चलता रहा था, लेकिन इस बार जिला अध्यक्षों का लोकतंत्रात्मक ढंग से चुनाव करने का निर्णय लिया गया। हालांकि बताया जा रहा है कि शीर्ष नेतृत्व में खगड़िया जिले में अपने कार्यकर्ताओं को फोन करके कहा था की जदयू के एमएलसी सोनेलाल मेहता ही सिर्फ नामांकन करेंगे ताकि उनका चुनाव निर्विरोध हो जाए।

लेकिन ऐसा हुआ नहीं जिलाध्यक्ष के चुनाव के लिए नामांकन में 5 लोग पढ़े जिसमें बबलू मंडल, विक्रम यादव सोनेलाल मेहता, साधना देवी और शिव शंकर सुमन ने नामांकन दाखिल किया। मतलब अब स्पष्ट हो गया था कि जो भी फैसला होगा वह वोटिंग से ही होगा। फिर वोटिंग की प्रक्रिया अपनाई गई उसके बाद जो परिणाम आया वह काफी चौकाने वाला था और वही सिर्फ नेतृत्व और खासकर एक एमएलसी के लिए काफी शर्मनाक था।

जिलाध्यक्ष के लिए हुए चुनाव में टोटल 75 मत पड़े। जिसमें 69 बबलू मंडल को 3 मत विक्रम यादव को एकमत वर्तमान जेडीयू एमएलसी सोनेलाल मेहता को और एकमत साधना देवी को मिला। गौरतलब है कि सोनेलाल मेहता और साधना देवी पूर्व में भी खगड़िया से जिलाध्यक्ष रह चुकी है। लेकिन बड़ा सवाल यह है कि आखिर एक एमएलसी को आम कार्यकर्ता ने जबरदस्त पटखनी कैसे दे दी। शीर्ष नेतृत्व के निर्देश के बाद भी सोनेलाल मेहता के खिलाफ लोग खड़े कैसे हो गए और जो सबसे बड़ा राजनीतिक सवाल है वह यह है कि क्या जेडीयू एमएलसी की हैसियत जिलाध्यक्ष जैसे चुनाव में भी सिर्फ 1 वोट की है, क्या जदयू का नेतृत्व यह नहीं देखता कि आखिर एमएलसी किस तरह के लोगों को मनोनीत किया जाए।

वहीं दूसरी तरफ बबलू मंडल की जीत से खगड़िया के जदयू के आम कार्यकर्ता काफी उत्साहित हैं। बबलू मंडल की जीत को लोग पार्टी की जीत बता रहे हैं। गौरतलब है कि बबलू मंडल लंबे समय से नीतीश कुमार के साथ जुड़े रहे हैं। बबलू मंडल समता पार्टी के समय से ही नीतीश कुमार के साथ हैं।

Find Us on Facebook

Trending News