केन्द्र सरकार का बड़ा दावा, देश में रोजगार नहीं योग्य नौजवानों की कमी

केन्द्र सरकार का बड़ा दावा, देश में रोजगार नहीं योग्य नौजवानों की कमी

NEWS4NATION DESK : रोजगार सृजन के मामले में केंद्र सरकार लगातार घिरती दिख रही है। 8 नवंबर, 2016 को घोषित नोटबंदी की चपेट में आकर भारी संख्या में नौकरियां जाने की खबरें आईं। तब से यह सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। भारत सरकार के सांख्यिकी विभाग ने भी जारी आंकड़े में इसकी पुष्टि हुई। लोकसभा चुनाव परिणाम आने के बाद जारी रिपोर्ट में विभाग ने बताया था कि पिछले 45 वर्षों में बेरोजगारी की दर सबसे अधिक है। अभी ऑटो सेक्टर में मंदी के कारण भी नौकरियां जाने की खबरें आ रही हैं।

इसी बीच केन्द्र सरकार ने बड़ा दावा किया है। केन्द्र सरकार का कहना है कि देश में रोजगार नहीं बल्कि योग्य लोगों की कमी है। 

केंद्रीय श्रम और रोजगार राज्य मंत्रीसंतोष कुमार गंगवार  ने कहा है कि देश मेंरोजगारकी कोई कमी नहीं है। गंगवार ने कहा कि देश में योग्यनौजवानों (youth) की कमी है। योग्य नौजवानों के लिए नौकरी की कोई कमी नहीं है। 

केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्रीकहा कि खासकर उत्तर भारत में अच्छी शिक्षा प्राप्त युवाओं की कमी है। उन्होंने कहा कि देश में रोजगार की कमी नहीं है। हमारे उत्तर भारत में जो रिक्रूटमेंट करने आते हैं, वो इस बात का सवाल करते हैं कि जिस पद के लिए हम रख रहे हैं, उस क्वॉलिटी का व्यक्ति हमें कम मिलता है।

गंगवार ने मीडिया की खबरों पर भी सवाल खड़ा करते हुए कहा कि आजकल अखबारों में रोजगार की बातें आ रही है, लेकिन इसमें कोई सच्चाई नहीं है। हम इसी मंत्रालय को देखने का काम करते हैं। मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि देश के अंदर रोजगार की कमी नहीं है, रोजगार बहुत है। 

Find Us on Facebook

Trending News