EOU के छापे में बड़ा खुलासा : निलंबित अंचलाधिकारी अनुज कुमार ने छुपा ली अवैध संपत्ति, मामले की विस्तृत हो रही है जांच

EOU के छापे में बड़ा खुलासा : निलंबित अंचलाधिकारी अनुज कुमार ने छुपा ली अवैध संपत्ति, मामले की विस्तृत हो रही है जांच

पटना. कोईलवर के तत्कालीन अंचलाधिकारी के तीन ठिकानों पर आर्थिक अपराध इकाई ने छापेमारी की थी. छापेमारी में आय से 52% अधिक संपत्ति मिली है. आर्थिक अपराध इकाई ने बताया है कि कोईलवर सोन नदी से बालू के अवैध उत्खनन को लेकर अंचालिधिकारी काफी चर्चा में रहे थे. यहां के थानाध्यक्ष पर भी निलंबन की कार्रवाई की गई है.

आज की कार्रवाई में अंचलाधिकारी अनुज कुमार के ठिकानों से ज्वेलरी नगद या घर के न्यूनतम जरूरत का सामान भी नहीं पाया गया. दर्शाता है कि इनके द्वारा बालू के अवैध उत्खनन से अर्जित संपत्ति को हटा दिया गया  है. आर्थिक अपराध इकाई इसकी विस्तृत अनुसंधान करेगी. निलंबित अंचलाधिकारी अनुज कुमार 2011 में राजस्व सेवा में योगदान दिया है. वह कोईलवर अत्रि सोनपुर एवं कई अन्य स्थानों पर पदस्थापित रहे है.

इनकी पत्नी गृहणी है, जो पूरी तरह से इन पर आश्रित है, लेकिन इनके बैंक खातों में काफी रकम का लेनदेन पाया गया है. पत्नी के बैंक खातों में आकाश होजियारी, मुकेश वर्णवाल एवं कई अन्य जगहों से रकम का ट्रांजैक्शन हुआ है. सत्यापन के क्रम में पाया गया है कि आकाश होजरी नाम की दुकान भौतिक रूप से अस्तित्व में नहीं है. इस तरह से अवैध तरीके से अर्जित रकम को विभिन्न लोगों के माध्यम से बैंक खाते में लेकर उसे वैध बनाने का प्रयास किया गया है. पत्नियों में इनके बैंक खातों में लगभग 1400000 रुपए नगद जमा किए गए हैं.

Find Us on Facebook

Trending News