सेक्स रैकेट का बड़ा खुलासा, युवतियों को इंजेक्शन देकर देह व्यापार करने को विवश करती थी दलालों की पत्नियां

सेक्स रैकेट का बड़ा खुलासा, युवतियों को इंजेक्शन देकर देह व्यापार करने को विवश करती थी दलालों की पत्नियां

INDORE : हाल में ही इंदौर के विजयनगर पुलिस ने देह व्यापार को लेकर बड़ी कार्रवाई की है। जिसमें बांग्लादेश से लाई गई युवतियों को रंगे हाथ पकड़ा गया है।अब इस कार्रवाई को लेकर जो बात सामने आई है, वह पुलिस के लिए भी चौंकानेवाला था। बांग्लादेश से देह व्यापार के लिए भारत लाई गईं युवतियों ने चौंकाने वाले बयान दिए हैं। युवतियों ने पुलिस को बताया कि एजेंट उन्हें व्यापार कराने के लिए इंजेक्शन देते थे। इससे उनका शरीर सुन्न पड़ जाता था। वे विरोध करने के लायक तक नहीं रहती थीं। इन युवतियों ने बताया कि यह काम करने के लिए  दलालों की पत्नियां उन पर देह व्यापार के लिए दबाव बनाती थीं।

इस तरह बांग्लादेश से जुड़ा था नेटवर्क

पुलिस ने बताया कि देह व्यापार के लिए बांग्लादेश तक पूरा नेटवर्क बना हुआ था। विजयनगर थाना प्रभारी तहजीब काजी की मानें तो इस कार्रवाई में पकड़ी गई दीपा जियाउल शेख की पत्नी है। जियाउल शेख बांग्लादेश में दलाल है। अकीजा विजय दत्त उर्फ मोमिनुल की गर्लफ्रेंड है। इंदौर का काम रजनी और नेहा संभालती थीं। अकीजा और दीपा बांग्लादेश से लाई गईं युवतियों पर देह व्यापार का दबाव बनाती थी। दोनों बड़े दलालों से टच में रहती थीं। 

चंगूल में फंसने के बाद इस तरह करती थी मजबूर

युवतियों से कहा करती थी- अब वह भारत आ गई हैं। अगर वापस बांग्लादेश जाना है, तो बड़ी कीमत चुकानी होगी। पैसे नहीं होने के कारण  गरीब परिवार की लड़कियां गलत काम के लिए तैयार हो जाती थीं। बताया गया कि एक बार जब एजेंट युवतियों को बांग्लादेश से भारत लेकर आ जाते हैं, तो भारत में उनकी पत्नियां-गर्लफ्रेंड उन्हें सभी तौर-तरीके सिखाती हैं। इसमें उन्हें कपड़े किस तरह से पहनना है, कैसे रहना है, कैसे बिहेव करना है ... सारे सलीके सिखाए जाते थे।

एक दिन में कई ग्राहकों के पास भेजते थे
युवतियों को जब दलाल बांग्लादेश से भारत लाते हैं, तो यहां उन्हें दवाएं और ड्रग्स दी जाती थीं। एक दिन में कई कस्टमर्स के आगे उन्हें भेजा जाता था। जब कोई लड़की ज्यादा शोर-शराबा करती तो उसे इंजेक्शन देकर बेहोश भी कर दिया जाता था। देह व्यापार में लिप्त आरोपियों ने बताया कि वे बांग्लादेश से युवतियों को लाने वाले दलालों को जो रकम अदा करते थे, उसे जल्द वसूलने के लिए युवतियों को नशा देकर एक दिन में कई ग्राहकों के पास भेजते थे। पैसा बनाने के बाद उन्हें दूसरे जिलों में बेच देते थे।

दर्द से राहत देनेवाला इंजेक्शन
जिस इंजेक्शन को देकर लड़कियों की स्किन को सुन्न किया जाता था, उसका इस्तेमाल आमतौर पर जेल या क्रीम के रूप में दर्द, जलन या खुजली से राहत पाने के लिए किया जाता है। दलाल इसका इस्तेमाल देह व्यापार के लिए करने लगे हैं।

Find Us on Facebook

Trending News