कोरोना का बड़ा असर : एक महीने से खुली हैं ऐतिहासिक स्मारकें, पर्यटकों की संख्या नगण्य

कोरोना का बड़ा असर : एक महीने से खुली हैं ऐतिहासिक स्मारकें, पर्यटकों की संख्या नगण्य

News4nation desk : कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में उथल-पुथल मचा रखा है। इस वायरस का डर लोगों में इस कदर समाया हुआ है कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद भी आम जिंदगी पटरी पर नहीं लौट रही है। 

कोरोना के खौफ का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि लॉकडाउन के बाद ऐतिहासिक स्मारकों को खुले हुए एक महीने से ज्यादा का समय गुजर चुका है, लेकिन स्मारकों के दीदार के लिए पर्यटकों के पहुंचने की संख्या न के बराबर है। स्मारक घूमने वालों में देसी-विदेशी पर्यटक शामिल हैं, लेकिन किसी स्मारक में पर्यटकों के रोजाना आने का आंकड़ा एक हजार तक नहीं पहुंचा। 

छह जुलाई से लेकर छह अगस्त तक के बीच में टिकट वाले सभी समारकों में देसी-विदेशी पर्यटकों की संख्या 17 हजार के करीब रही है। वहीं, कोरोना काल से पहले लालकिला, कुतुबमीनार सहित दूसरी स्मारकों में एक महीने के अंदर लाखों पर्यटक आते थे। 

Find Us on Facebook

Trending News