भ्रष्टाचार के खिलाफ निगरानी की बड़ी कार्रवाई, पटना में लाखों रुपए रिश्वत लेते कार्यपालक अभियंता गिरफ्तार

भ्रष्टाचार के खिलाफ निगरानी की बड़ी कार्रवाई, पटना में लाखों रुपए रिश्वत लेते कार्यपालक अभियंता गिरफ्तार

पटना. निगरानी की टीम ने मंगलवार को पटना में एक कार्यपालक अभियंता को 8 लाख रुपए रिश्वत लेते गिरफ्तार किया. कार्यपालक अभियंता राजेश कुमार के खिलाफ मिली शिकायत के बाद गुप्त सूचना पर निगरानी की टीम ने छापेमारी की और उसे 8 लाख रुपए रिश्वत के साथ गिरफ्तार किया. 

राजेश कुमार पटना के कंकड़बाग स्थित नूतन अपार्टमेंट में रहता है. निगरानी टीम ने उसके आवासीय परिसर में छापेमारी की और उसे रुपयों के साथ धर दबोचा.  आरोपी कार्यपालक अभियंता के आवासीय परिसर पर निगरानी अन्य प्रकार की छानबीन में जुटी है. कार्यपालक अभियंता के ठिकाने पर पहुंची निगरानी की टीम को गुप्त सूचना मिली थी. उसी आधार पर मंगलवार सुबह निगरानी ने छापेमारी की. इस दौरान कार्यपालक अभियंता 8 लाख नकद रिश्वत के रूप में ले रहा था. उसे रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया और उसके भ्रष्टाचार से संबंधित अन्य इतिहास का पता लगाया जा रहा है. 

बिहार में पिछले कुछ सप्ताह से भ्रष्टाचार के खिलाफ निगरानी सहित अन्य विभागों की ओर से लगातार कार्रवाई की जा रही है.  निगरानी विभाग की टीम ने पिछले  शनिवार 25 दिसम्बर की सुबह वैशाली एसपी के रीडर अनिल प्रसाद के घर में छापेमारी कर कई महत्वपूर्ण कागजात जब्त किए थे. निगरानी टीम द्वारा पटना के तेजप्रताप नगर स्थित एक 5 मंजिला मकान और एक तीन मंजिला मकान की छापेमारी के दौरान सोने एवं चांदी के जेवरात बरामद किया गए हैं, जिसकी कुल कीमत 5.50 लाख रुपये से ज्यादा आंकी गई है। इसके अलावे जमीन के 6 डीड बरामद किए गए हैं, जिसकी कीमत डेढ़ करोड़ रुपये बताई जा रही है। इसके पूर्व भी राज्य में एक दर्जन से ज्यादा ऐसे मामले हाल के दिनों में उजागर हुए जिसमें करोड़ों रुपए के भ्रष्टाचार का खुलासा हुआ. 



Find Us on Facebook

Trending News