बड़ी खबर : कश्मीर घाटी में 10 हजार जवानों की तैनाती के बाद अब 28 हजार सुरक्षाबल होंगे तैनात, जानिए क्या है वजह

NEWS4NATION DESK : जम्मू-कश्मीर को लेकर एक और बड़ी खबर सामने आई है। मिल रही जानकारी के मुताबिक 10 हजार सुरक्षाबलों की तैनाती के बाद अब  केंद्र सरकार 28 हजार और जवानों को जम्मू-कश्मीर भेजा जा रहा है। 

सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक जवान गुरुवार सुबह से घाटी में पहुंचने लगे हैं। राज्य के अलग-अलग इलाकों में उन्हें तैनाती दी जा रही है।

इतनी बड़ी संख्या में जवानों की तैनाती के बाद तरह-तरह के कयास भी लगाए जा रहे हैं। इससे पहले 10 हजार अतिरिक्त जवानों की तैनाती पर सरकार ने यह कहकर विराम लगाने की कोशिश की थी कि घाटी में आतंकवाद विरोधी कार्रवाई को पहले से और अधिक मजबूती देने के लिए 100 कंपनियां तैनात की जा रही हैं।

बताया जा रहा है कि आतंकवाद के खिलाफ मोदी की सरकार जीरो टॉलरेंस की नीति और सेना के ऑपरेशन ऑलआउट ने आतंकी संगठनों की जड़ें हिला दी है। घाटी में छिपे आतंकियों को सेना एक के बाद एक मौत के घाट उतार रही है। सरकार की इस कार्रवाई से बौखलाए आतंकी संगठन बड़ी वारदात को अंजाम देने की जुगत में हैं।

सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तानी सेना ने जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमलों के लिए एलओसी के पास 100 से अधिक आतंकियों को तैयार कर लिया है और उनकी घुसपैठ कराने की फिराक में है। माना जा रहा है कि भारतीय सेना की लगातार कार्रवाई के बाद आतंकी संगठन को खुद की जमीन हिलती दिख रही है।
 
 साथ ही सर्जिकल स्ट्राइक में मारे गए आतंकियों का बदला लेने के लिए आतंकी घुसपैठ की फिराक में हैं। सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से ही पाकिस्तान की सेना भारत के नागरिकों के साथ-साथ रक्षा अधिकारियों और सुरक्षा ठिकानों पर आतंकी हमलों की योजना बना रही है।

गुरुवार को एक कार्यक्रम के दौरान जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल मलिक ने कहा कि हम कश्मीर को खुशहाल बनाकर रहेंगे। इस दौरान उन्होंने पाक सेना द्वार की जा रही सीजफायरिंग पर भी बयान दिया था। हालांकि राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने अनुच्छेद 35-ए हटाए जाने की अटकलों को सिरे से नकार दिया था। 

राज्यपाल ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि इस तरह की अफवाहों पर ध्यान न दें। वहीं सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत गुरुवार को सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा को लेकर श्रीनगर पहुंचे। सेना के प्रवक्ता के मुताबिक सेना प्रमुख अगले दो दिन कश्मीर में ही रहेंगे।

Find Us on Facebook

Trending News