बड़ी खबर : कमिश्नर साहब के रेंज में आ गए डीआईजी साहब, फंस गया पीआर का पेंच, जान लीजिये कैसे...

बड़ी खबर : कमिश्नर साहब के रेंज में आ गए डीआईजी साहब, फंस गया पीआर का पेंच, जान लीजिये कैसे...

PATNA : बिहार पुलिस मुख्यालय ने जोन को समाप्त कर रेंज क्या बनाया कि डीआईजी साहब कमिश्नर साहब के रेंज में आ गए। जी हां आईपीएस अधिकारियों के काम पर कमिश्नर साहब की नजर होगी। यानी आईपीएस अधिकारियों के कार्य मूल्यांकन का परफॉर्मेंस एसेसमेंट यानी पीआर कमिश्नर साहब लिखेंगे।

गौरतलब है कि पुलिस मुख्यालय ने पुलिसिंग में बदलाव करते हुए पूरे बिहार में जोन को समाप्त कर रेंज बना दिया है। मतलब रेंज में या तो डीआईजी होंगे या फिर आईजी। इस बदलाव की वजह से आईपीएस अधिकारियों के कार्य निष्पादन मूल्यांकन प्रतिवेदन लिखने को लेकर भी एक नया सिस्टम बनाया गया है। जिसके अनुसार डीआईजी तक का पीआर कमिश्नर लिखेंगे।

बता दें बिहार बिहार का पुलिस सिस्टम पहले चार जोन में बांटा था। कुछ दिन पहले पुलिस इन को दुरुस्त करने के लिए रेंज को अस्तित्व में लाया गया और जोन समाप्त कर दिया गया। वर्तमान व्यवस्था में 12 पुलिस रेंज है। जिसमें 7 रेंज में डीआईजी और 5 में आईजी रैंक के पुलिस पदाधिकारी तैनात हैं। पहले से पहले के पुलिसिया व्यवस्था के अनुसार डीआईजी का बॉस आईजी हुआ करता था, लेकिन अब व्यवस्था बदलने के बाद रेंज में या तो डीआईजी हैं या सिर्फ आईजी वहीं दूसरी तरफ रेंज आईजी का पीआर स्वयं डीजीपी लिखेंगे।

पीआर लिखने को लेकर नई व्यवस्था के तहत एसडीपीओ या एसपी का पीआर एसपी, एसएसपी लिखेंगे, वहीं इसकी समीक्षा डीएम के द्वारा की जाएगी।

Find Us on Facebook

Trending News