बड़ी खबर : BPSC के पूर्व सदस्य रामकिशोर सिंह जल्द ही हो सकते है गिरफ्तार, पर्याप्त साक्ष्यों की तलाश में निगरानी सफल

बड़ी खबर : BPSC के पूर्व सदस्य रामकिशोर सिंह जल्द ही हो सकते है गिरफ्तार, पर्याप्त साक्ष्यों की तलाश में निगरानी सफल

PATNA : बीपीएससी के पूर्व सदस्य और जदयू नेता राम किशोर सिंह की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। साक्षात्कार में नंबर बढ़ाने को लेकर 25 लाख की रिश्वत की मांग करने के आरोप में फंसे बीपीएससी के पूर्व सदस्य रामकिशोर सिंह के खिलाफ अन्य साक्ष्यों को जुटाने के लिए गुरुवार को निगरानी टीम बिहार पब्लिक सर्विस कमीशन के दफ्तर पहुंची।

सूत्रों ने बताया कि गुरुवार दोपहर में निगरानी की टीम ने बिहार लोक सेवा आयोग के दफ्तर पहुंचकर रामकिशोर से जुड़ी एक-एक चीज की जानकारी हासिल करने में लगी रही। साथ ही बीपीएससी में कार्यरत कर्मचारियों से भी राम किशोर सिंह के क्रियाकलाप से संबंधित कई प्रश्न पूछे गए।

बता दें कि निगरानी अन्वेषण ब्यूरो ने एक उम्मीदवार के शिकायत पर राम किशोर सिंह के खिलाफ कॉल रिकॉर्डिंग कर साक्षात्कार में रिश्वत मांगने आरोप से संबंधित सबूत जुटाए थे ।

कॉल रिकॉर्डिंग के नमूने को जांच हेतु चंडीगढ़ भेजा गया था। कॉल रिकॉर्डिंग के नमूने की जांच पॉजिटिव आने के बाद बीपीएससी के सदस्य राम किशोर सिंह पर निगरानी ने एफआईआर दर्ज किया था।

उसके बाद रामकिशोर सिंह ने बीपीएससी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। एफआइआर दर्ज होने के बाद निगरानी अन्वेषण ब्यूरो बीपीएससी की 56वीं से लेकर 59वीं सिविल सेवा की मुख्य और साक्षात्कार से जुड़े प्रश्नों को लेकर बीपीएससी की अधिकारियों से कई प्रश्न पूछे हैं।

इतना ही नहीं प्रश्न पत्र कहां सेट कराया गया, किन लोगों ने सेट किए, किस प्रिंटर में छपा, इसकी भी जानकारी ली जा रही है। साथ ही 56 वीं से लेकर 59 वीं सिविल सेवा परीक्षा के साक्षात्कार में किन-किन विशेषज्ञों को शामिल किया गया था। उस पैनल की भी जानकारी जुटाई जा रही है। निगरानी का निशाना खासकर वह पैनल है जिसमें रामकिशोर शामिल हैं। राम किशोर सिंह से नजदीकी रिश्ता रखने वाले और पैनल विशेषज्ञों के बारे में भी जानकारी जुटाई जा रही है।

बताया जा रहा है कि जैसे ही निगरानी के पास पर्याप्त साक्ष्य आ जाएंगे वैसे ही बीपीएससी के निवर्तमान सदस्य राम किशोर सिंह को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। हालांकि सूत्रों की माने तो पर्याप्त सबूत निगरानी के हाथ लग चुके हैं।

Find Us on Facebook

Trending News