अग्निपथ योजना के विरोध में छात्र संगठनों का आज बिहार बंद : विपक्ष के साथ सरकार में शामिल हम ने भी किया समर्थन, कई जिलों में इंटरनेट सेवा बंद

अग्निपथ योजना के विरोध में छात्र संगठनों का आज बिहार बंद : विपक्ष के साथ सरकार में शामिल हम ने भी किया समर्थन, कई जिलों में इंटरनेट सेवा बंद

PATNA : सेना की नई अग्निपथ योजना के खिलाफ बिहार के छात्र-युवा संगठन आईसा-इनौस, रोजगार संघर्ष संयुक्त मोर्चा और सेना भर्ती जवान मोर्चा ने शनिवार को बिहार बंद का ऐलान किया है। वहीं इन संगठनों के बंद को सभी विपक्षी पार्टियों ने भी समर्थन देने की घोषणा की है। 

उतारी गई फौज

बिहार बंद के दौरान कोई बड़ा उपद्रव या कोई बड़ी घटना न हो इसे ध्यान में रखते हुए एक एक बड़ा फैसला हुआ है। पुलिस मुख्यालय से जुड़े सूत्रों के अनुसार एक्स्ट्रा फोर्स के तौर पर पैरा मिलिट्री फोर्स की तैनाती की गई है। सूत्रों के अनुसार 3 पैरामिलिट्री फोर्स के कुल 10 कंपनियों को पटना समेत अलग-अलग जिलों में तैनात किया गया है। इसमें RAF की एक कंपनी, CRPF की 3 कंपनी और SSB की 6 कंपनियां शामिल हैं। इसके अलावा लॉ एंड ऑर्डर को बनाए रखने के लिए बिहार पुलिस की स्पेशल आर्म्ड फोर्स (BSAP) के बटालियन को भी मुस्तैद किया गया है।बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस की 35 कंपनियों के अलावा 3000 अतिरिक्त बलों को जिलों में भेजा जा रहा है।

12 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद


वहीं दूसरी ओर गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव ने उपद्रवियों से सख्ती से निपटने के आदेश दिए हैं। इस बीच राज्य के 12 जिलों में अगले 48 घंटे के लिए इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। इन जिलों में सोशल साइट फेसबुक, ट्विटर और इंस्ट्राग्राम से भड़काऊ संदेश या किसी भी तरह की खुराफात ना हो इसलिए इसे बाधित रखने का फैसला लिया गया है. विभाग द्वारा जारी आदेश के अनुसार बिहार के कैमूर, भोजपुर, औरंगाबाद, रोहतास, बक्सर, नवादा, पूर्वी चंपारण, समस्तीपुर, लखीसराय, बेगूसराय, वैशाली और सारण में मोबाइल नेटवर्क बाधित रहेगा। बिहार सरकार के गृह विभाग द्वारा जारी आदेश के अनुसार बिहार पुलिस मुख्यालय के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर के द्वारा जैसे ही विभाग को बताया गया है कि बिहार के कैमूर भोजपुर औरंगाबाद रोहतास बक्सर नवादा पूर्वी चंपारण समस्तीपुर लखीसराय बेगूसराय वैशाली और सारण में सोशल साइट के माध्यम से भ्रामक चीजों को फैलाया जा रहा है जिस वजह से वहां पर क्षति ज्यादा हुई है।

मांझी और वीआईपी ने किया समर्थन

अग्निपथ योजना के विरोध में शनिवार को आहूत बिहार बंद का हम और वीआईपी ने समर्थन किया है। हम के संरक्षक जीतन राम मांझी ने कहा है कि हम देश के युवाओं के साथ हैं। उन्होंने कहा कि हम किसी भी तरह की हिंसा के पक्षधर नहीं है। इसलिए युवाओं से आग्रह है कि शांति बनाये रखें। युवा और राष्ट्रहित में ‘हम’ बंद का सैद्धांतिक समर्थन करती है। वहीं वीआईपी प्रमुख मुकेश सहनी ने कहा है कि सरकार के अड़ियल रवैये के विरोध में वीआईपी बंद का नैतिक समर्थन करेगी।


Find Us on Facebook

Trending News