बिहार के बीडीओ 1 फरवरी से अनिश्चितकालीन अवकाश पर जाने को लेकर अड़े, आंदोलन सफल बनाने को लेकर संघ ने बनाई रणनीति

बिहार के बीडीओ 1 फरवरी से अनिश्चितकालीन अवकाश पर जाने को लेकर अड़े,  आंदोलन सफल बनाने को लेकर संघ ने बनाई रणनीति

PATNA : बिहार के सभी बीडीओ 1 फरवरी से अनिश्चितकालीन अवकाश पर जाने पर अड़ गए हैं। बिहार ग्रामीण विकास सेवा संघ ने अपने आंदोलन को सफल बनाने के लिए पटना में एक बैठक की। बैठक में हर हाल में 1 फरवरी से अनिश्चित काल अवकाश पर जाने का संकल्प दुहराया गया है। संघ के प्रतिनिधियों की रविवार को बैठक हुई और सर्वसम्मति से यह निर्णय हुआ कि हर हाल में अवकाश पर जाकर आंदोलन को सफल बनाना है

बीडीओ संघ की क्या है मांग

बिहार ग्रामीण विकास सेवा संघ ने यह ऐलान करते हुए आरोप लगाया कि सरकार उनलोगों के साथ अन्याय और अनदेखी कर रही है। विवश होकर बीडीओ संघ ने अनिश्चितकालीन अवकाश पर जाने का निर्णय किया है। संघ ने कहा कि अवकाश से होने वाली किसी भी परेशानी के लिए पूरी जिम्मेदारी ग्रामीण विकास विभाग की होगी।बिहार ग्रामीण विकास सेवा संघ के मीडिया प्रभारी राहुल कुमार ने कहा कि ग्रामीण विकास विभाग के सचिव के बारबार आश्वासन के बावजूद संघ के -मांगों की अनदेखी हुई है। लिहाजा, ग्रामीण विकास संघ ठगा महसूस कर रहा है। विभाग की मंशा उनके संगठन को कमजोर बनाए रखने की है।

 ग्रामीण विकास संघ बिहार सरकार से बिहार ग्रामीण विकास सेवा पुनर्गठन एवं वेतन विसंगति को लेकर लगातार मांग उठा रहा है। अपनी मांगों को लेकर ग्रामीण विकास संघ ने विभाग के सचिव के साथ वार्ता की और वेतन विसंगति को दूर करने की मांग पहले ही कर चुका है। आश्वासन के बावजूद सरकार ने अब तक कोई निर्णय नहीं लिया है। ऐसे में संघ ने अब पहली फरवरी से सामूहिक अवकाश पर जाने का निर्णय लिया गया है। इसकी सूचना सीएम, डिप्टी सीएम को दे दी गई है।


Find Us on Facebook

Trending News