BIHAR BREAKING: मंडल कारा में कैदी की मौत, जेल प्रशासन में मचा हड़कंप, डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप

BIHAR BREAKING: मंडल कारा में कैदी की मौत, जेल प्रशासन में मचा हड़कंप, डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप

KHAGARIA: गुरूवार की सुबह खगड़िया मंडल कारा में इलाज के दौरान कैदी की मौत हो गई। इससे जेल प्रशासन सहित अन्य कैदियों में हड़कंप मच गया। बताया गया कि कैदी की तबीयत बीते दिनों से सही नहीं थी, इसी वजह से उसकी मौत हुई है। हालांकि दबी जुबान में लापरवाही की बात भी सामने आ रही है।

इस खबर के बाहर आते ही अन्य कैदियों में हड़कंप मच गया है। मृत कैदी की पहचान खगड़िया जिला के ही बेलदौर प्रखंड के चंद्रवंशी राम के रूप में की गई है। इस मामले में जेल अधिकारी राजीव कुमार ने बताया कि यह कैदी 21 जून, 2021 को कारा में प्रवेश लिया था। कोरोनाकाल होने की वजह से उसी दिन इसे क्वारेंटीन के लिए नवगछिया भेज दिया गया था। जिसके बाद 17 जुलाई को चंद्रवंशी राम को वापस मंडल कारा भेजा गया था। एक्साइज एक्ट में इन्हें जेल हुई थी। इनपर शराब बेचने का आरोप था। वहीं मौत के मामले पर कहा कि यह तो डॉक्टर बताएंगे की कैसे मौत हुई। अपनी तरफ से सफाई देते हुए कहा कि कैदी की मौत सदर असपताल में मौत हुई है। जेल में हालत सही थी।

वहीं इस मामले में शिक्षक नेता मनीष कुमार सिंह ने जेल प्रशासन सहित जिला प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होनें जिला प्रशासन से मांग की है कि जेल प्रशासन पर कड़ी निगरानी रखें। जेल के अंदर ऐसी व्यवस्था हो कि कैदी की समस्या का उचित समाधान हो। उनकी नियमित जांच हो और इलाज और दवा मिले। उन्होनें बताया कि कैदियों को जेल से अस्पताल और बड़े अस्पताल रेफर करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। कम से कम 4 बार उन्हें जेल से अस्पताल तक का चक्कर लगाना पड़ता है। इसमें उनकी हालत औऱ बिगड़ जाती है। बता दें, शिक्षक नेता मनीष कुमार सिंह ने पहले भी जेल की कुव्यवस्था के खिलाफ आवाज उठाई थी।

Find Us on Facebook

Trending News