'मंत्री जी' मौन होकर 'टुकुर-टुकुर' देखते रहे और उनके मातहत करते रहे बखान, मतलब समझ लीजिए..किसको कितना है ज्ञान !

'मंत्री जी' मौन होकर 'टुकुर-टुकुर' देखते रहे और उनके मातहत करते रहे बखान, मतलब समझ लीजिए..किसको कितना है ज्ञान !

PATNA: बिहार सरकार के एक विभाग की तरफ से आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में अधिकारी जवाब देते रहे और मंत्री जी सिर्फ सिर हिलाते रहे।यह वाक्या हुआ पर्यटन विभाग के प्रेस कांफ्रेंस में.दरअसल पर्यटन विभाग की तरफ से आज प्रेस कांफेंस आयोजित की गई थी।

पीसी में विभागीय मंत्री कृष्ण कुमार ऋषि,प्रधान सचिव रवि परमार,एमडी आनंद शर्मा समेत कई अन्य अधिकारी मौजूद थे।पूरे प्रेस कांफ्रेंस के दौरान प्रधान सचिव और एमडी बोलते रहे ।बगल में बैठे विभाग के मंत्री कृष्ण कुमार ऋषि टुकुर-टुकुर देखते रहे और अपने अधिकारियों के जवाब पर सिर हिलाते रहे।

पीसी करीब 20 मिनट से अधिक चली।लास्ट आवर में जब पत्रकारों ने मंत्री से पूछा कि आप अपने विभाग के बारे में बताईए।तपाक से मंत्री जी ने कहा कि जितना बोला गया है उतना हीं छप जाए यही काफी है।मेरे बोलने की जरूरत नहीं..यह कहते हुए मंत्री जी प्रेस कांफ्रेंस से निकल गए।

अमूमन विभागीय प्रेस कांफ्रेंस में मंत्री हीं बोलते हैं

दरअसल विभाग की तरफ से आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में अग मंत्री मौजूद होते हैं तो विभाग की जानकारी मंत्री हीं देते हैं।साथ हीं पत्रकारों के सवालों के जवाब भी वहीं देते हैं।लेकिन यहां तो उल्टा हो गया।मंत्री जी चुपचाप देखते रहे और उनके अधिकारी हीं सबकुछ जानकारी दिए।

Find Us on Facebook

Trending News