कंप्यूटर शिक्षकों की बिहार के स्कूलों में हो जल्द बहाली, बिहार कंप्यूटर शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन ने की मांग

कंप्यूटर शिक्षकों की बिहार के स्कूलों में हो जल्द बहाली, बिहार कंप्यूटर शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन ने की मांग

PATNA : बिहार कंप्यूटर शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन के बैनर तले अपनी 1 सूत्री मांग को लेकर रिकॉर्ड 930 दिन से धरना दे रहे हैं. एसटीईटी 2019 के रद्द हो जाने से इन कंप्यूटर शिक्षकों को काफी आघात लगा है. एसोसिएशन के महासचिव विनोद कुमार सिन्हा ने बताया कि शिक्षा विभाग ने अनुभव प्राप्त कंप्यूटर शिक्षकों की मांगों पर कोई विचार ना करते हुए अनुभव का लाभ नहीं दिया. 

जबकि इसी सरकार ने बिहार तकनीकी सेवा आयोग की कनीय अभियंताओं के पद पर होने वाली परीक्षा के लिए पूर्व से संविदा पर बहाल कनीय अभियंताओं को अनुभव का लाभ देते हुए अधिकतम 5 वर्षों के लिए 25 अंक दिए. साथ ही इसी वर्ष अमीन की बहाली में भी पूर्व से संविदा पर कार्यरत अमीनो को उनके अनुभव के आधार पर 5 वर्षों के लिए अधिकतम 25 अंक इसी सरकार द्वारा दिए गए. 

उन्होंने कहा की अब एसटीईटी 2019 की परीक्षा धांधली के आरोप में रद्द हो चुकी है. ऐसी स्थिति में पूर्व से 5-8 सालों के अनुभव प्राप्त कंप्यूटर शिक्षकों को बिहार के माध्यमिक, उच्च माध्यमिक विद्यालयों में जल्द से जल्द बहाल किया जाए ताकि ऑनलाइन वर्ग संचालन में यह कंप्यूटर शिक्षक बिहार के गरीब छात्र-छात्राओं की मदद कर सकें.

हालांकि शिक्षा मंत्री कृष्ण नंदन प्रसाद वर्मा द्वारा पूर्व से कार्यरत कंप्यूटर शिक्षकों के लिए कक्षा 9वी में आवेदन करने की बात कही गई है. जिससे अनुभव प्राप्त समस्त कंप्यूटर शिक्षक काफी आशान्वित हैं. 


Find Us on Facebook

Trending News