बिहार में कोरोना सैंपल की जांच में तेजी, 15 अगस्त से हर रोज 50 हज़ार जांच की तैयारी

बिहार में कोरोना सैंपल की जांच में तेजी, 15 अगस्त से हर रोज 50 हज़ार जांच की तैयारी

बिहार में कोरोना संक्रमण का दायरा बढ़ता जा रहा है। अब तक के आंकड़ों पर गौर करें तो यह आंकड़े 62 हज़ार के पार चले गए हैं। वही कंटेनमेंट जोन की संख्या में भी कमी नहीं आ रही है। बेकाबू होते कोरोना वायरस पर लगाम लगाने के लिए बिहार सरकार की लगातार प्रयास कर रही है। जिला प्रशासन देश को लेकर सख्ती बरत रहा है और कई अहम फैसले ले रहा है।

 इसी बीच अब बिहार में हर रोज 50 हज़ार जांच की तैयारी हो रही है। अगले 10 दिन के अंदर स्वास्थ्य विभाग प्रतिदिन 50 हज़ार कोरोना सैंपल की जांच करेगा। स्वास्थ्य विभाग ने आईसीएमआर और परिवार और स्वास्थ्य कल्याण मंत्रालय की गाइडलाइन के आधार पर जांच का नया लक्ष्य निर्धारित किया है। विभाग 15 अगस्त से 50 हजार जांच करने में सक्षम हो जाएगा। 

बता दें कि 15 जुलाई से कोरोना सैंपल की जांच में तेजी लाई गई है। अगस्त महीने की शुरूआत से रोज 35 से 38 हज़ार सैंपल तक की जांच संभव हो पाएगी। जैसे 15 अगस्त से बढ़ाकर 50 हजार प्रतिदिन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। विभाग की तरफ से जो जानकारी मिली है उसके अनुसार कोरोना सैंपल जांच के दायरे में बाढ़ ग्रस्त जिले के लोगों को भी शामिल किया गया है। बाढ़ग्रस्त क्षेत्र में पानी में फंसे लोगों को निकाल कर राहत शिविरों में लाया जा रहा है। जहां उनकी जांच भी हो रही है। विभाग ने जिलाधिकारियों और सिविल सर्जनों को निर्देश दिए हैं कि राहत शिविरों में रहने वाले ज्यादा से ज्यादा लोगों की एंटीजन से जांच सुनिश्चित करें। बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के लिए बनाई गई जांच टीम में एक डॉक्टर के साथ दो पारा मेडि इस लगाए गए हैं।

Find Us on Facebook

Trending News