BIHAR CRIME: गैंगरेप कांड में 5 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली, स्थानीय विधायक ने दिलाया मदद का भरोसा

BIHAR CRIME: गैंगरेप कांड में 5 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली, स्थानीय विधायक ने दिलाया मदद का भरोसा

SAMASTIPUR: जिले में 5 दिनों पहले हुए गैंगरेप का मामाला अब तूल पकड़ने लगा है। इस गैंगरेप कांड की चर्चा देशभर में हुई थी। यह वारदात इतना जघन्य और खौफनाक था कि जिसने भी सुना, उसने अपने कानों पर विश्वास नहीं किया और देखने वालों ने शर्म से नजरें झुका लीं। मामले में अबतक जिला पुलिस द्वारा कोई ठोस कार्रवाई नहीं की जा सकी है। हालांकि पुलिस ने इस मामले में कुछ लोगोंको हिरालत मे लिया है, जिनसे वारदात के बारे में पूछताछ की जा रही है।

फिलहाल इस मामले में विभूतिपुर थानाध्यक्ष चंद्रकांत गौरी ने 7 लोगो को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। हालांकि पीड़िता द्वारा अबतक हिरासत में लिए गए लोगों की पहचान नहीं कराई गई है। इस संबंध में शनिवार को विभूतिपुर विधायक अजय कुमार सदर अस्पताल पहुंचे और पीड़िता से मुलाकात की। विधायक ने पीड़िता से बात कर हरसम्भव मदद करने का भरोसा दिलाया। साथ ही दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने को लेकर आंदोलन करने का ऐलान किया है।

यह मामला जिले के विभूतिपुर थाना क्षेत्र का मंगलवार की है। यहां घर से शौच के लिए निकली एक महिला से सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया गया। दरिंदगी का आलम तो यह है कि गैंगरेप के बाद जब महिला बेहोश हो गई, तो उसे मरा समझकर दुष्कर्मियों ने उसे नग्न अवस्था में घर से दूर चौर में बिजली के खंभे से फंदा लगाकर छोड़ दिया। सुबह जब लोगों ने महिला को खंभे से बंधा देखा तो गांव में घटना आग की तरह फैल गई। महिला की गंभीर हालत देखकर उसे अनुमंडलीय अस्पताल से सदर अस्पताल रेफर कर दिया। यहां पीड़िता जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रही है। गांव वालों ने बताया कि पीड़िता के घर शादी का कार्यक्रम था। ग्रामीणों ने शक के आधार पर एक टेंट पंडाल में काम करने वाले 7 लोगों को बंधक बनाकर पुलिस को सौंप दिया था। पुलिस अबतक उन्हीं लोगों से पूछताछ कर रही है।

Find Us on Facebook

Trending News