BIHAR CRIME: चौकीदार पर युवक की हत्या का आरोप, परिजनों का दावा- शराब में जहर मिलाकर पिलाया, 5 घंटे तक NH-30 रखा बाधित

BIHAR CRIME: चौकीदार पर युवक की हत्या का आरोप, परिजनों का दावा- शराब में जहर मिलाकर पिलाया, 5 घंटे तक NH-30 रखा बाधित

BUXAR: जिले के सोनवर्षा ओपी थाना क्षेत्र के उजागिर डेरा में युवक का शव बरामद किया गया। शव की पहचान होते ही परिजन घटनास्थल पर जमा हो गए और हंगामा करने लगे। परिजनों ने स्थानीय थाना के चौकीदार पर हत्या का आरोप लगाया है। पीड़ित परिजनों के अनुसार चौकीदार ही युवक को घर से शराब पीने के बहाने बुलाकर ले गया था, फिर बाद में चौकीदार के घर के सामने ही युवक का शव बरामद किया गया।मृतक की पहचान सोनू चौधरी के रूप में की गई है, जो रोहतास जिले के कोआथ का रहने वाला था।

मृतक अपने ससुराल मे रहकर पहले होटल चलाया करता था बाद में मुर्गी फार्म तथा मछली पालन का काम करता था। घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची सोनवर्षा पुलिस मामले की जांच में जुटी है। परिजनों ने आरोप लगाया है कि चौकीदार ही घर से बुलाकर ले गया था, जहां शराब में जहर मिलाकर पिला दिया जिससे उसकी मौत हो गई। मृतक की सास ने बताया कि घर में किसी के नहीं रहने की वजह से ससुराल में ही रहकर मुर्गा फार्म एवं मछली पालन का काम करता था। पुलिस पर भी गंभीर आरोप लगाए और कहा कि इस हत्याकांड में थाना के चौकीदार के शामिल होने के कारण पुलिस इस मामले में उचित कार्रवाई नहीं कर रही है। इसी को लेकर आक्रोशित सैकड़ों लोगों ने शव के साथ मुख्य हाईवे NH-30 सड़क को लगभग 5 घंटे जाम कर दिया। जिसके वजह से वाहनों की बड़ी लंबी कतार लग गई। भयंकर सड़क जाम की घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंचे डुमराव एसडीपीओ केके सिंह ने काफी मशक्कत के बाद लोगों को समझा-बुझाकर मामले को शांत कराया, जिसके बाद मुख्य सड़क से जाम हटाया गया। 


इस मामले के बारे में डुमराव एसडीपीओ केके सिंह ने बताया कि एक युवक का शव मृत अवस्था में बरामद किया गया है। जिसमें आशंका है कि जहर से उसकी मौत हुई है। इस मामले में सच्चाई क्या है यह पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद जो तथ्य सामने आएगा। उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। चौकीदार पर परिजनों का हत्या के आरोप लगाए जाने के मामले पर एसडीपीओ केके सिंह ने कहा कि इस मामले की जांच की जा रही है। फिलहाल परिजनों के तरफ से आरोप लगाए गए हैं लेकिन अभी तक एफ आई आर दर्ज नहीं कराया गया है। पुलिस पूरे मामले में निष्पक्ष रुप से जांच कर दोषियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करेगी। यहां एक बात और गौर करने वाली है कि चौकीदार तेजू यादव पूर्व में भी जेल जा चुका है।

Find Us on Facebook

Trending News