बिहार में इस बार के विधानसभा चुनाव में 2015 इलेक्शन का टूटा रिकार्ड,जानिए....

बिहार में इस बार के विधानसभा चुनाव में 2015 इलेक्शन का टूटा रिकार्ड,जानिए....

PATNA: बिहार में तीन चरण में वोटिंग संपन्न हो गया है. कोरोना काल में पहला आम चुनाव संपन्न हुआ है. इस बार 2015 के मुकाबले अधिक लोगों ने मतदान किया है. चुनाव आयोग की तरफ से मिली जानकारी के मुताबिक 2015 विधानसभा चुनाव में वोटर टर्न रेसियो कुल मिलाकर 56.6 6 पर्सेंट था। विधानसभा आम निर्वाचन 2020 में यह वोटर टर्नआउट रेसियो 0.39% बढ़कर 57.05 परसेंट हो गया है.

कोरोना काल में मतदान केंद्रों पर अधिकतम मतदाताओं की संख्या 1400 से घटाकर 1000 की गई. इससे मतदान केंद्रों की संख्या जो पूर्व में 72723 थी इसमें 46.48 फीसदी बढ़कर 106515 हो गई है.इसका फायदा हुआ हुआ कि कोरोना काल में भी मतदान फीसदी में गिरावट की बजाए वोट परसेंट में वृद्धि दर्ज की गई।

महिलाओं ने खूब किया वोटिंग

बिहार निवार्चन कायार्लय के अनुसार, बिहार की 243 विधानसभा क्षेत्र में 28 अक्टूबर, 3 नवंबर और 7 नवंबर को तीन चरण में कराए गए मतदान में महिलाओं ने कोरोना को पीछे छोड़ कर पुरुषों को पटखनी दे दी.  इस बार विधानसभा चुनाव में 59.69 प्रतिशत महिलाओं ने पुरुषों के 54.68 प्रतिशत के मुकाबले 5.1 प्रतिशत अधिक मतदान कर लोकतंत्र के प्रति अपनी मजबूत होती आस्था को प्रकट किया है।

बिहार में वर्ष 2010 के विधानसभा चुनाव में पहली बार महिलाओं ने मतदान के मामले में पुरुषों को पछाड़ दिया था। उस चुनाव में पुरुषों के 51.12 प्रतिशत के मुकाबले 3.37 प्रतिशत अधिक महिलाओं ने यानी 54.49 प्रतिशत मतदान किया। यह सिलसिला वर्ष 2015 के पिछले विधानसभा चुनाव में भी जारी रहा। उस वर्ष भी 53.32 प्रतिशत पुरुषों के मुकाबले 7.17 प्रतिशत अधिक 60.48 प्रतिशत महिलाओं ने वोट किया।


Find Us on Facebook

Trending News